Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

पोस्को और आईटी एक्ट के तहत Child Porn देखना अपराध है या नहीं, पढ़ें मद्रास हाईकोर्ट का फैसला?

Madras HC Concern About Porn Addiction in Gen Z: कोर्ट ने कहा कि इस गंभीर समस्या से जूझ रहे बच्चों को सजा देने के बजाए उन्हें समझाना चाहिए और उन्हें सही सलाह देनी चाहिए।

Edited By : Pooja Mishra | Updated: Jan 13, 2024 07:28
Share :
Madras High Court
मद्रास हाई कोर्ट

Madras HC Concern About Porn Addiction in Gen Z: मद्रास हाई कोर्ट की तरफ से Gen Z के बीच बढ़ रही पोर्न की लत को लेकर चिंता जाहिर की गई है। साथ ही समाज को सलाह दी है कि वह Gen Z की इस लत से छुटकारा पाने में उनकी मदद और मार्गदर्शन करें। हाई कोर्ट ने यह टिप्पणी एक चाइल्ड पोर्नोग्राफी से संबंधित मामले की सुनवाई के दौरान की है। कोर्ट ने कहा कि किशोरों में अश्लील तस्वीरें और वीडियो देखने की लत लगातार बढ़ रही है, समाज को इस पर ध्यान देने की जरूरत है। Gen Z के बीच इस लत के बढ़ने का मुख्य कारण इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर उनकी आसान पकड़ और पहुंच है। कोर्ट ने समाज से आग्रह करते हुए कहा कि इस विषय पर किशोरों को उचित मार्गदर्शन प्रदान किया जाए।

 

First published on: Jan 13, 2024 07:28 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें