Friday, September 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Independence Day 2022: आतंकी खतरे की आशंका पर दिल्ली पुलिस अलर्ट, 10 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी रहेंगे तैनात

इंटेलिजेंस ब्यूरो ने अपनी रिपोर्ट में उन इलाकों पर नजर रखने जो कहा था, जहां रोहिंग्या और अफ़गानिस्तान के लोग रह रहे हैं।

नई दिल्ली: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुख्ता व्यवस्था की गई है। दिल्ली के स्पेशल सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) दीपेंद्र पाठक ने बताया कि रोहिंग्याओं से आतंकी खतरे के आईबी अलर्ट के बाद सुरक्षा व्यवस्था को लेकर तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है। उन्होंने बताया कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 10,000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा। इस बार विशेष तौर पर एरियल ऑब्जेक्ट्स को भी नियंत्रित करने का इंतजाम किया है। IEDs को लेकर चेकिंग, मॉक ड्रिल, किराएदारों का वेरिफिकेशन आदि किया जा रहा है।

रोहिंग्याओं से खतरे की आशंका पर दीपेंद्र पाठक ने बताया कि हमारे पास विशेष रूप से रोहिंग्याओं की निगरानी के लिए एक संस्थागत तंत्र है, हम ऐसा विशेष शाखा के समन्वय से करते हैं। बता दें कि चार अगस्त को आईबी ने स्वतंत्रता दिवस को लेकर दिल्ली पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश दिए थे। अपनी 10 पन्नों की रिपोर्ट में इंटेलिजेंस ब्यूरो ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश और अन्य आतंकी संगठनों के साजिश की जानकारी दी थी। आईबी के इनपुट के मुताबिक, इस्लामिक स्टेट इन्हें लॉजिस्टिक मदद देकर देश में धमाके कराना चाहता है।

अल जवाहिरी की मौत के बाद बौखलाया हुआ है अलकायदा

देश आज़ादी का 75वां अमृत महोत्सव मना रहा है। ऐसे में इस बार आज़ादी का जश्न भी बेहद खास हो जाता है। देश के दुश्मन इस जश्न के रंग में भंग न डाल दे उसके लिए खुफिया एजेंसीज अलर्ट पर है। अल जवाहिरी की अफ़ग़ानिस्तान में मौत के बाद अलकायदा भी बौखलाया हुआ है और किसी बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देना चाहता है।

दिल्ली के नए पुलिस कमिशन्र ने लिया था लालकिले की सुरक्षा का जायजा

आईबी के इनपुट को गंभीरता से लेते हुए दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा ने कार्यभार संभालते ही सबसे पहले लालकिले की सुरक्षा का जायज़ा लिया था। आईबी की रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी कई नेताओं, बड़े इंस्टिट्यूशन को निशाना बनाया जा सकता है।

आईबी की रिपोर्ट में जुलाई में जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पर हमले का भी जिक्र है। दिल्ली पुलिस को कहा गया है कि 15 अगस्त के आयोजन स्थल पर स्ट्रिक्ट एंट्री के नियम लागू किये जाएं। अपनी इस 10 पन्नों की रिपोर्ट में आईबी ने उदयपुर और अमरावती की घटना का भी जिक्र करते हुए कहा है कि भीड़भाड़ वाली जगहों पर रेडिकल ग्रुप और उनकी एक्टिविटी पर कड़ी निगरानी रखी जाए।

UAV और पैरा ग्लाइडर्स का इस्तेमाल कर सकते हैं आतंकी: आईबी

लश्कर ए तैयबा (LeT), जैश ए मोहम्मद (JeM) जैसे आतंकी संगठन हमले के लिए UAV और पैरा ग्लाइडर्स का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसलिए बॉर्डर पर तैनात जवानों को भी चौंकन्ना रहने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही आईबी ने अपनी रिपोर्ट में उन इलाकों पर नज़र रखने जो कहा है, जहां रोहिंग्या और अफ़गानिस्तान के लोग रह रहे हैं।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -