Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

Maamla Legal Hai Review: कोर्टरूम में कॉमेडी का तड़का, जानें कैसी है रवि किशन की ‘मामला लीगल है’

Maamla Legal Hai Review: रवि किशन की मामला लीगल है नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो गई है। 8 एपिसोड वाली यह सीरीज जॉली एलएलबी के फॉर्मेट पर चलती है, जहां गंभीरता के साथ कोर्टरूम का ड्रामा और कॉमेडी भी देखने को मिलेगी। अगर आप भी सीरीज देखने का मन बना रहे हैं तो पहले इसके रिव्यू पर डालें एक नजर...

Edited By : Jyoti Singh | Updated: Mar 1, 2024 16:52
Share :
Maamla Legal Hai Review. Photo Credit- Instagram
Movie name:Maamla Legal Hai
Director:Rahul Pandey
Movie Casts:Ravi Kishan, Nidhi Bisht, Yashpal Sharma, Anjum Batra, Vijay Rajoria, Anant Joshi, Naila Grewal

Maamla Legal Hai (अश्विनी कुमार): भोजपुरी, तमिल, तेलुगु और हिंदी फिल्मों में सफल मुकाम हासिल कर चुके एक्टर रवि किशन अब वकील बन गए हैं। जी हां, अपनी वकालत के जरिए उन्होंने वकीलों की जिंदगी से जुड़ी तमाम परेशानियों को दर्शकों के सामने परोसा है तो कोर्टरूम में अपनी कॉमेडी का तड़का भी लगाया है। हम बात कर रहे हैं रवि किशन की वेब सीरीज ‘मामला लीगल है’ की। कुल 8 एपिसोड वाली इस सीरीज को देखकर आपको जॉली एलएलबी की याद आ जाएगी। नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई ‘मामला लीगल है’ को अगर आप देखने की सोच रहे हैं तो एक बार इसके रिव्यू पर नजर जरूर डाल लें।

मामला लीगल है की कहानी

रवि किशन की वेब सीरीज ‘मामला लीगल है’ की कहानी शुरू होती है पड़पड़गंज बार एसोसिएशन के प्रेसीडेंट वी.डी त्यागी जिनका सपना ही है कि वो देश के सॉलिसिटर जनरल बनें लेकिन कहते हैं न कि हर चीज इतनी आसानी से नहीं मिलती। कुछ ऐसा ही हुआ है वी.डी त्यागी के साथ। देश के सॉलिसिटर जनरल बनने के लिए वी. डी. त्यागी हर मोहरा इस्तेमाल करते हैं। कोई चाल नहीं जिसे वो न चलें। कभी दिल जीतते हैं, तो कभी वार करते हैं। उनकी इसी जद्दोजहद को दिखाती है यह सीरीज।

सीरीज में हैं आठ एपिसोड

8 एपिसोड तक दिल्ली बार एसोसिएशन के चुनाव की तैयारी, हर एपिसोड की एडिशनल कहानी के साथ चलती है। साथ ही विदेश से लॉ की डिग्री लेकर पड़पड़गंज कोर्ट में आई अन्नया की भी कहानी है, जो यहां आकर ज़मीन पर देसी वकालत का हुनर सीखती है। ‘मामला लीगल है’ की कहानी कई मामलों में आपको जॉली एलएलबी की याद दिलाती है। सीरीज में आपको कई जगहों पर कॉमेडी का डोज भी मिलेगा।

 

एडवोकेट्स का दर्द

बेब सीरीज ‘मामला लीगल है’ की कहानी कुणाल और सौरभ ने लिखी है, जिसमें उन्होंने एग्रैजियस, दरवाजा, डिग्निटी, औकात, टच, बिरादरी, कुटाई, और आख़िर में लॉ एंड जस्टिस वाले एपिसोड तक हर बार कुछ कमाल ही दिखाया है। यहां आपको नोटरी से लेकर, कमीशन के बाद केस ट्रांसफर करवाने वाले एडवोकेट्स की कहानी भी देखने को मिलेगी तो सालों से चैंबर पाने को तरस रहे सीनियर एडवोकेट्स का दर्द भी दिखेगा। इसके अलावा केस को पाने के लिए तमाम दलील और जुगाड़ भी बखूबी से दिखाया गया है।

सेंशस कोर्ट से सुप्रीम कोर्ट

आपको बता दें ‘मामला लीगल है’ को काफी संभल-संभल कर बनाया गया है। डायरेक्टर राहुल पांडे ने इस बात का बखूबी ख्याल रखा है कि एंटरेटनेंट और स्टोरी का असर कहीं हल्का ना पड़े। वहीं रही-सही कसर रवि किशन ने पूरी कर दी है। वी.डी त्यागी के किरदार में उन्होंने अदाकारी का हर रंग दिखाया है, जैसे वो वन मैन शो हों। सीरीज में उनके साथ निधि बिष्ट, नैना ग्रेवाल, यशपाल शर्मा, अनंत जोशी जैसे एक्टर्स भी अपने किदार से इंसाफ करते दिखे हैं। कुल मिलाकर कहा जाए तो ‘मामला लीगल है’ इस हफ्ते परफेक्ट बिंज वाच मैटेरियल है। टाइम निकाल कर इसे देखा जा सकता है।

First published on: Mar 01, 2024 04:37 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें