Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

44,00,000% का रिटर्न और 1,39,25,84,76,00,000 कैश… पढ़िए वॉरेन बफे के पत्र की अहम बातें

Warren Buffett: वॉरेन बफे की बर्कशायर हैथवे कंपनी का कैश भंडार 168 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। उबर और नाइकी जैसी दिग्गज कंपनियां भी इससे पीछे हो गई हैं। इसे लेकर बफे ने कंपनी के शेयरधारकों के नाम एक पत्र लिखा है। पढ़िए दिग्गज निवेशक वॉरेन बफे के इस पत्र की अहम बातें।

Edited By : Gaurav Pandey | Updated: Feb 27, 2024 12:34
Share :
Warren Buffett
Warren Buffett (twitter.com/InvestingCanons)

Warren Buffett : दिग्गज निवेशक वॉरेन बफे ने बर्कशायर हैथवे के शेयरधारकों के नाम एक पत्र लिखा है जिसमें कंपनी के प्रदर्शन की जानकारी दी गई है। कंपनी ने बताया है कि इसका कैश रिजर्व अभूतपूर्व स्तर पर पहुंच गया है। बफे ने ऐसी महत्वपूर्ण ट्रांजैक्शंस की कमी पर निराशा भी जताई है जो संभावित रूप से उल्लेखनीय फायदा दे सकते थे। पत्र के अनुसार चौथी तिमाही के दौरान कंपनी का कैश भंडार 167.6 अरब डॉलर हो गया, यह अभी तक का सबसे ज्यादा आंकड़ा है। इसके पीछे का कारण आकर्षक कीमत वाले सौदे हासिल करने के लिए आईं कई चुनौतियां रहीं।

44 लाख प्रतिशत का रिटर्न

वॉरेन बफे ने इस पत्र में लिखा है कि बर्कशायर हैथवे के प्रदर्शन ने एस एंड पी को कहीं पीछे छोड़ दिया है। साल 1965 में कंपनी का नियंत्रण बफे के हाथ में आने के बाद इसे मिला रिटर्न 44 लाख प्रतिशत रहा जो एस एंडपी के लिए 31 हजार प्रतिशत था। पत्र में कहा गया है कि बर्कशायर हैथवे ने 168 अरब डॉलर का कैश और शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट जुटाए हैं, जो उबर और नाइकी जैसी बड़ी कंपनियों से भी ज्यादा है। साल 2023 के समाप्त होने तक बर्कशायर की कुल नेट संपत्ति 561 अरब डॉलर थी। यह पिछले साल से 19 प्रतिशत ज्यादा था और कंपनी के लिए एक बड़ा रिकॉर्ड था।

अब कैसा है पोर्टफोलियो

उल्लेखनीय है कि कीमती इन्वेस्टमेंट डील्स पाने में चुनौतियों का सामना करने के बाद भी बर्कशायर का पोर्टफोलियो 354 अरब डॉलर का है। इसमें स्टॉक्स, कैश और ट्रेजरी बिल शामिल हैं। कंपनी ने इनवेस्टमेंट से कमाई में नाटकीय इजाफा देखा है। बता दें कि बर्कशायर के वित्तीय परिणामों को अक्सत अमेरिकी अर्थव्यवस्था के स्वास्थ्य के लिए बैरोमीटर की तरह देखा जाता है। बर्कशायर हैथवे के तहत बीएनएसएफ रेलवे, गीको इंश्योरेंस और डेयरी क्वीन रेस्तरां जैसे कारोबार आते हैं। ऐसा पोर्टफोलिया कंपनी को बढ़ती ब्याज दरों के असर के प्रति बहुत संवेदनशील बना देता है।

ये भी पढ़ें: SBI और Canara Bank पर लगा करोड़ों रुपये का जुर्माना

ये भी पढ़ें: गिर गए सोने-चांदी के भाव, कतई मिस मत करना ये मौका

ये भी पढ़ें: Paytm FASTag की जगह यूज कर सकते हैं ये 5 ऑप्शन

First published on: Feb 27, 2024 12:27 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें