Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

Railway free facility: रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी! रेलवे स्टेशन पर कोच तक जाने के लिए इलेक्ट्रिक कार मिलेगी

Railway free facility: मध्य रेलवे (CR) ने अपने नौ स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक वाहनों (EVs) के लिए चार्जिंग पॉइंट पेश किए हैं। रेलवे मुंबईकरों की बढ़ती संख्या आवागमन को लेकर इस स्थायी मोड पर अपनी व्यवस्था स्विच कर रही है। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT), दादर, बायकुला, परेल, कुर्ला, लोकमान्य तिलक टर्मिनस, भांडुप, कल्याण और पनवेल […]

Edited By : Nitin Arora | Updated: Jan 28, 2023 15:02
Share :

Railway free facility: मध्य रेलवे (CR) ने अपने नौ स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक वाहनों (EVs) के लिए चार्जिंग पॉइंट पेश किए हैं। रेलवे मुंबईकरों की बढ़ती संख्या आवागमन को लेकर इस स्थायी मोड पर अपनी व्यवस्था स्विच कर रही है। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT), दादर, बायकुला, परेल, कुर्ला, लोकमान्य तिलक टर्मिनस, भांडुप, कल्याण और पनवेल में ईवी चार्जिंग सुविधा शुरू की गई है।

इस कदम से 2025 तक सभी नए वाहनों में 10 प्रतिशत योगदान देने वाले तरीके से ईवी को अपनाने में तेजी लाने के महाराष्ट्र सरकार के लक्ष्य को भी समर्थन मिलने की उम्मीद है।

और पढ़िए वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, सुकन्या समृद्धि योजना को इस बार मिल सकता है Boom

किस मकसद से शुरू हुई ये सेवा?

सीआर के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने कहा,’मध्य रेलवे शहर में परिवहन के किसी भी अन्य साधन की तुलना में सबसे बड़ी संख्या में मुंबईकरों को सेवा प्रदान करता है। हमें गर्व है कि मुंबईकर हमारी सेवाओं को चुनते हैं क्योंकि वे सस्ती और शहर में घूमने के सबसे तेज़ तरीके हैं। हमारे कई यात्री रेलवे स्टेशनों पर जाते हैं और अपने वाहनों को हमारे निर्धारित पार्किंग स्थान पर पार्क करते हैं, और अपने कार्यालयों की यात्रा करते हैं। इसलिए, ईवी कारों वाले हमारे परिसर में स्थित चार्जिंग पॉइंट से लाभान्वित होंगे। यह सुविधाएं उन लोगों के लिए भी हैं जो हमारी ट्रेनों का उपयोग नहीं करते हैं, लेकिन जो प्रतिदिन इन स्टेशनों से गुजरते हैं और अपने घर के पास या काम पर जाने और वापस आने के दौरान चार्जिंग स्टेशन होने से लाभान्वित होंगे।’

और पढ़िएकर्मचारी और नियोक्ता दोनों देंगे योगदान, कौन पात्र है और उनके क्या हैं लाभ? योजना के बारे में जानें सबकुछ

उन्होंने कहा कि इन स्टेशनों में से कुछ लंबी दूरी की ट्रेने भी हैं, जहां कई लोग काफी दूर से इन स्टेशनों पर ट्रेनों में सवार होने आते हैं जो अक्सर एक घंटे या उससे अधिक दूर रहते हैं। इन कारकों को ध्यान में रखते हुए, हमने उन स्टेशनों पर सेवा शुरू की है जहां स्थानीय और लंबी दूरी की ट्रेनें चलती हैं।

और पढ़िएबिजनेस से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहां पढ़ें

First published on: Jan 28, 2023 12:31 PM
संबंधित खबरें