Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Jan Dhan Yojana Account: 50 करोड़ जन-धन योजना खाताधारकों की बल्ले बल्ले, केंद्र सरकार ने की ये घोषणा

Jan Dhan Yojana Account: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयों का उद्घाटन करते हुए इसे राष्ट्र को समर्पित किया। 50 करोड़ जनधन खातों में से आधे महिलाओं के हैं।

Jan Dhan Account Online kaise kholein: केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने 16 अक्टूबर को सार्वजनिक योजनाओं में डिजिटलीकरण और भ्रष्टाचार को खत्म करने के मामले में सरकार की बड़ी उपलब्धि पर प्रकाश डाला और कहा कि प्रधानमंत्री जन-धन योजना के बैंक खातों के माध्यम से अब तक कई लाभार्थियों को लगभग 25 लाख करोड़ रुपये वितरित किए जा चुके हैं।

अभी पढ़ें Atal Pension Yojana: मात्र 210 रुपये का निवेश करने पर संवर जाएगा बुढ़ापा, जानें- कितनी मिलेगी पेंशन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयों का उद्घाटन करते हुए इसे राष्ट्र को समर्पित किया। रेड्डी ने कहा कि 50 करोड़ जन धन खातों में से आधे महिलाओं के हैं।

आप सभी जानते हैं कि जब जन धन खाते खोले गए तो सवाल था कि क्या हमारे देश में इसकी आवश्यकता है। आज हमने जन धन खातों के माध्यम से गरीब लोगों को कल्याणकारी योजनाओं पर 25 लाख करोड़ रुपये वितरित किए हैं। यह एक उपलब्धि है।’

फर्जी लोगों पर हुई कार्रवाई

रेड्डी ने कहा कि गरीबों ने आज तक जन धन बैंक खातों में 1.75 लाख करोड़ रुपये जमा किए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों में ऐसे कई उदाहरण हैं जहां धोखेबाजों ने झूठी पहचान का उपयोग करके गरीबों के कल्याणकारी कार्यक्रम, पेंशन और सब्सिडी चुरा ली। रेड्डी ने कहा कि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) और इतने ही झूठे एलपीजी सिलेंडर खातों के लागू होने के बाद चार करोड़ फर्जी राशन कार्ड रद्द कर दिए गए।

उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने पहले कहा था कि केंद्र के 100 रुपये के वितरण के मुकाबले केवल 15 रुपये ही लोगों तक पहुंच रहे हैं, क्योंकि बिचौलिए 85 रुपये की जेब में जा रहे थे। इसलिए आज हम गर्व से कह सकते हैं कि केंद्र गरीब को 100 रुपये भेजता है और एक रुपया भी इधर उधर नहीं जाता।

अभी पढ़ें दीवाली से पहले ग्राहकों के लिए बुरी खबर, इन बैंकों ने उधार दरों में संशोधन कर लोन EMIs को बढ़ाया

किशन रेड्डी ने कहा कि वह तेलंगाना सरकार से उन छात्रों के बैंक खाते की जानकारी मांग रहे हैं ताकि छात्रवृत्ति के लिए 300 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए जा सकें। उन्होंने दावा किया कि केंद्र एससी और एसटी छात्रों को छात्रवृत्ति सीधे उनके बैंक खातों में जमा करने के लिए तैयार है।

अभी पढ़ें – बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -