Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

केंद्र ने टमाटर की खुदरा कीमतों में और कटौती की, अब 70 रुपये प्रति किलोग्राम पर बेचा जाएगा

Tomatoes Price: उपभोक्ताओं को और राहत देने के लिए, केंद्र सरकार ने बुधवार को कहा कि उसने अपनी मार्केटिंग एजेंसियों – NAFED और NCCF को 80 रुपये के बजाय 70 रुपये प्रति किलोग्राम पर टमाटर बेचने का निर्देश दिया है। एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि उपभोक्ता गुरुवार से संशोधित दरों पर टमाटर […]

Edited By : Nitin Arora | Updated: Jul 20, 2023 15:12
Share :
Jaipur, Huge Jump In tomato Price

Tomatoes Price: उपभोक्ताओं को और राहत देने के लिए, केंद्र सरकार ने बुधवार को कहा कि उसने अपनी मार्केटिंग एजेंसियों – NAFED और NCCF को 80 रुपये के बजाय 70 रुपये प्रति किलोग्राम पर टमाटर बेचने का निर्देश दिया है। एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि उपभोक्ता गुरुवार से संशोधित दरों पर टमाटर खरीद सकेंगे। भारतीय राष्ट्रीय सहकारी उपभोक्ता संघ (NCCF) और भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ (NAFED) द्वारा खरीदे गए टमाटरों को शुरुआत में 90 रुपये प्रति किलोग्राम पर बेचा गया था और फिर 16 जुलाई 2023 से घटकर 80 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई और अब 70 रुपये हो गई है।

आज सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया, ‘दिल्ली-एनसीआर में टमाटर की खुदरा बिक्री 14 जुलाई 2023 से शुरू हुई थी।18 जुलाई, 2023 तक दोनों एजेंसियों द्वारा कुल 391 मीट्रिक टन टमाटर की खरीद की गई थी, जिसका दिल्ली-एनसीआर, राजस्थान, यूपी और बिहार के प्रमुख उपभोग केंद्रों में खुदरा उपभोक्ताओं को लगातार निपटान किया जा रहा है।’

बता दें कि पूरे देश में टमाटर की कीमतों में तेज वृद्धि दर्ज की गई है और यह केवल किसी विशेष क्षेत्र तक ही सीमित नहीं है। प्रमुख शहरों में यह बढ़कर 150-200 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गया।

इन महीने होता है टमाटर का कम उत्पादन

जुलाई-अगस्त और अक्टूबर-नवंबर की अवधि आम तौर पर टमाटर के लिए कम उत्पादन वाले महीने होते हैं।

भारत में टमाटर का उत्पादन लगभग सभी राज्यों में होता है। भारत के दक्षिणी और पश्चिमी क्षेत्रों में देश के कुल टमाटर उत्पादन का 56-58 प्रतिशत हिस्सा होता है।

सरकार ने कीमतों में वृद्धि के लिए मानसून के मौसम को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि इससे वितरण संबंधी चुनौतियां और बढ़ गईं और पारगमन घाटा बढ़ गया।

टमाटर की शेल्फ लाइफ अपेक्षाकृत कम होती है। वर्तमान में, गुजरात, मध्य प्रदेश और कुछ अन्य राज्यों के बाजारों में आने वाली आपूर्ति ज्यादातर महाराष्ट्र विशेष रूप से सतारा, नारायणगांव और नासिक से होती है, जो इस महीने के अंत तक रहने की उम्मीद है।

इसके अलावा, अगस्त में नारायणगांव और औरंगाबाद बेल्ट से अतिरिक्त आपूर्ति आने की उम्मीद है। सरकार ने कहा कि मध्य प्रदेश से भी आगमन शुरू होने की उम्मीद है। विशेष रूप से, टमाटर और अन्य सब्जियों की कीमतों में वृद्धि जून के खुदरा मुद्रास्फीति के आंकड़ों में परिलक्षित हुई।

First published on: Jul 19, 2023 06:51 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें