Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

Sharad Purnima 2022: आपके घर भी आज रात आ सकती हैं माता लक्ष्मी, बस तुरंत कर लें ये आसान उपाय

Sharad Purnima 2022: शरद पूर्णिमा का पावन पर्व आज है। आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि है। इसे शरद पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू धर्म में शरद पूर्णिमा का विशेष धार्मिक महत्व है। मान्यता है कि इस दिन माता लक्ष्मी धरती पर आती है। इस दौरान वो भ्रमण […]

Edited By : Pankaj Mishra | Updated: Oct 11, 2022 13:59
Share :
Sharad Purnima

Sharad Purnima 2022: शरद पूर्णिमा का पावन पर्व आज है। आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि है। इसे शरद पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू धर्म में शरद पूर्णिमा का विशेष धार्मिक महत्व है। मान्यता है कि इस दिन माता लक्ष्मी धरती पर आती है। इस दौरान वो भ्रमण करती है और अपने भक्तों पर कृपा बरसाती है।

साथ ही मन्याता है द्वापर में भगवान श्रीकृष्ण ने शरद पूर्णिमा की रात को ही रास रचाया था। भगवान श्रीकृष्ण ने बंसी बजाकर गोपियों को अपने पास बुलाया और ईश्वरीय अमृत का पान कराया था। इस लिए इसे रास पूर्णिमा भी कहा जाता हैं। इतना ही नहीं शरद पूर्णिमा की रात चंद्रमा पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है और आकाश से अमृत की वर्षा होती है। इस लिए शरद पूर्णिमा के दिन और रात में माता लक्ष्मी, भगवान श्रीकृष्ण और चंद्रमा की पूजा करने का विधान है।

अभी पढ़ें आज ये अपने पार्टनर को कर सकते हैं प्रपोज, सभी मूलांक वाले यहां जानें आज का अपना राशिफल

धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक इस दिन माता लक्ष्मी धरती पर आती हैं और भ्रमण के दौरान अपने भक्तों की समस्याओं को दूर करने के लिए वरदान देती हैं। साथ ही वो प्रसन्न होकर अपने भक्तों को धन-धान्य से परी पूर्ण करती है।

शरद पूर्णिमा के दिन आज जरूर करें ये काम

  1. इस दिन अपने घर की अच्छे से साफ सफाई करें। कहीं पर कूड़ा कचरा या जाले न हों, इसका ध्यान रखना चाहिए।
  2. इस रात माता लक्ष्मी की पूजा ​करें।
  3. धार्मिक मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात माता लक्ष्मी पृथ्वी पर विचरण करती हैं।
  4. रात के समय में अपने घर के मुख्य द्वार को खोलकर रखें। माता लक्ष्मी का आपके घर आगमन हो सकता है।
  5. शरद पूर्णिमा को माता लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं। खीर के अलावा दूध से बनी मिठाई का भोग लगा सकते हैं।
  6. शरद पूर्णिमा की रात चंद्रमा 16 कलाओं से युक्त होता है, इसलिए आप चंद्र देव की पूजा करें।
  7. चंद्रमा को दूध, जल, फूल और अक्षत् मिलाकर अर्पित करें। इससे कुंडली का चंद्र दोष दूर होगा। सुख समृद्धि आएगी।
  8. रात में खीर बनाएं और उसे खुले आसमान में रख दें। चंद्रमा की औषधीय किरणों से वह खीर अमृत समान हो जाता है और उसे खाने से व्यक्ति निरोगी होता है।
  9. सुख समृद्धि के लिए रात में घी के दीपक जलाएं।

अभी पढ़ें करवा चौथ पर अविवाहित लड़कियां इस तरह रखें अपना व्रत, पाएं मनचाहा वर

शरद पूर्णिमा के दिन आज भूलकर भी न करें ये काम 

  1. इस दिन घर को गंदा न रखें, गंदगी में मां लक्ष्मी का आगमन नहीं होता है।
  2. शरद पूर्णिमा दिन माता लक्ष्मी धरती पर आती हैं और विचरण करते वक्त जिसका घर खुला होता है वहां प्रवेश करती हैं। ऐसे में आप शरद पूर्णिमा की रात घर के मुख्य द्वार को बंद करके न रखें। कुछ समय के लिए खोल दें।
  3. इस रात घर में अंधकार न रखें। अंधेरा नकारात्मकता का प्रतीक है।
  4. इस दिन चंद्रमा से जुड़ी वस्तुओं का अनादर न करें, चंद्र दोष लग सकता है।
  5. कुंडली में चंद्रमा से माता के संबंधों का विचार किया जाता है, इसलिए शरद पूर्णिमा को अपनी माता का अपमान न करें, उनको किसी बात से तकलीफ न दें।

अभी पढ़ें – आज का राशिफल यहाँ पढ़ें

First published on: Oct 09, 2022 01:06 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें