Wednesday, November 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Pitru Paksha Amavasya 2022: पितृ पक्ष का आखिरी दिन आज, ऐसे करें पितरों विदाई, खूब मिलेगा आशीर्वाद

Pitru Paksha Amavasya 2022: आज पितृपक्ष अमावस्या है। इसे आश्विन कृष्‍ण अमावस्‍या और महालय अमावस्‍या भी कहते हैं।

Pitru Paksha Amavasya 2022: आज पितृ पक्ष अमावस्या है। आज पितृ पक्ष का आखिरी दिन यानी समापन है। इसे सर्व पितृ अमावस्या या फिर महालय अमावस्या भी कहा जाता है। मान्‍यता के मुताबिक इस दिन हमारे पूर्वज विदा होकर वापस देवलोक को प्रस्‍थान करते हैं। जिन पितरों की तिथि ज्ञात नहीं होती, उन सभी का श्राद्ध अमावस्या के दिन किया जाता है।

अभी पढ़ें Shukrawar Ke Upay: शुक्रवार को जरूर करें ये काम, जमकर बरसेगा पैसा, भरी रहेगी तिजोरी

मान्‍यता है कि अगर आप किसी भी कारणवश तिथि पर अपने पूर्वजों का श्राद्ध नहीं कर पाए हैं तो सर्वपितृ अमावस्‍या पर उनके निमित्‍त दान-पुण्‍य करने और कुछ उपाय करने से उनको तृप्ति प्राप्‍त होती है और वे आपसे प्रसन्‍न होते हैं। आपको पूर्वजों का आशीर्वाद प्राप्‍त हो जाता है।

हिंदू धर्म में पितर पक्ष का विशेष महत्व है। मान्यता के मुताबिक इन 16 दिनों में पितरों का स्मरण कर उनका पिंडदान, तर्पण आदि किया जाता है। इससे उनकी आत्मा तृप्त होकर वापस लौटती है और वंशजों को खूब सारा आशीर्वाद देते हैं।

अभी पढ़ें Navratri 2022: नवरात्रि इन कामों से करें परहेज, मां जगदंबा होगी खुश, किसी भी चीज की नहीं रहेगी कमी

इस दिन सर्व पितृ विसर्जन होता है, पवित्र नदी में स्नान कर तर्पण, पिंडदान, श्राद्ध कर कर पितरों को सम्मानपूर्वक विदाई दी जाती है।

मान्यता है कि पितृपक्ष के दौरान कराया गया भोजन सीधे हमारे पितरों को मिलता है। पितृ विसर्जन के दिन पितरों की विदाई की जाती है। ऐसे में इस दिन आप पितरों का मनपसंद भोजन बनाकर ब्राह्मणों को भोजन कराएं।

अभी पढ़ें – आज का राशिफल यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -