Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Navratri 2022: नवरात्रि इन कामों से करें परहेज, मां जगदंबा होगी खुश, किसी भी चीज की नहीं रहेगी कमी

Navratri 2022: नवरात्रि में मां जगदंबा के भक्त तरह-तरह से उनकी पूजा आराधना करते हैं जिससे मां दुर्गा प्रसन्न हों लेकिन कई ऐसे काम भी हैं जिन्हें नवरात्रि के दौरान करने पर माता नाराज हो जाती हैं।

Navratri 2022: आज से शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) की शुरुआत हो गई है। आज नवरात्रि का पहला दिन है। इस साल चैत्र नवरात्रि का त्योहार 26 सिंतबर से से शुरु होकर 5 अक्टूबर तक रहेगी।

चैत्र नवरात्रि के 9 दिनों तक मां दुर्गा के भक्त उपवास रखते हुए पूजा अर्चना करते हैं। चैत्र प्रतिपदा तिथि को घटस्थापना की जाती है और अष्टमी व नवमी तिथि पर कन्या पूजन के बाद व्रत का पारण किया जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार साल भर में कुल मिलाकर 4 नवरात्रि आती हैं जिसमें चैत्र और शारदीय नवरात्रि का विशेष महत्व है।

अभी पढ़ें Numerology Horoscope 26th September 2022: इनका अपने पार्टनर के साथ खत्म होगा झगड़ा, सभी मूलांक वाले यहां जानें आज का अपना अपना राशिफल

यूं तो इन नौ दिनों में भक्त तरह-तरह की पूजा व भजन-कीर्तन आदि करते हैं जिससे मां दुर्गा प्रसन्न हो जाएं। लेकिन मान्यता है कि ऐसे बहुत से कार्य हैं जिन्हें नवरात्रि के दौरान करने पर मां दुर्गा नाराज हो जाती हैं।

नवरात्रि में ना करें ये काम 

– चैत्र नवरात्रि दौरान सात्विक भोजन ही करना चाहिए और मांस-मछ्ली व प्याज लहसुन से परहेज करना चाहिए।

–  नवरात्रि के दौरान शराब के सेवन को भी वर्जित माना गया है।

– व्रती परिवार के सदस्यों को चैत्र नवरात्रि के दौरान बाल, दाढ़ी या मूंछ नहीं कटवाने चाहिए।

– नवरात्रि के दौरान चमड़े से बनी वस्तुओं को दूर रखना चाहिए।

– पूजा स्थल पर जाने वाले व्यक्ति को चमड़े की कोई चीज धारण नहीं करनी चाहिए।

– चैत्र नवरात्रि पर दुर्गा मां की अखंड ज्योत को कभी भुजने नहीं देना चाहिए। मां दुर्गा  क्रोधित हो सकती हैं।

अभी पढ़ें Navratri 2022: कल से शुरू हो रही है नवरात्रि, यहां जानें- कलश स्थापना समय समेत तमाम जानकारी

शारदीय नवरात्रि 2022 तिथियां

26 सितंबर (पहला दिन)- मां शैलपुत्री की पूजा
27 सितंबर (दूसरा दिन)- मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
28 सितंबर (तीसरा दिन)- मां चंद्रघंटा की पूजा
29 सितंबर (चौथा दिन)- मां कुष्मांडा की पूजा
30 सितंबर (पांचवां दिन)- मां स्कंदमाता की पूजा
1 अक्टूबर (छठवां दिन)- मां कात्यायनी की पूजा
2 अक्टूबर (सातवां दिन)- मां कालरात्रि की पूजा
3 अक्टूबर (आठवां दिन)- मां महागौरी की पूजा
4 अक्टूबर- (नवां दिन)- मां सिद्धिदात्री की पूजा
5 अक्टूबर- दशमी तिथि- (व्रत पारण), नवरात्रि दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी या दशहरा

अभी पढ़ें – आज का राशिफल यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -