Tuesday, November 29, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

पाकिस्तान में फिर शहबाज Vs इमरान; सेना प्रमुख की नियुक्ति से जुड़े इस प्रस्ताव को PM शरीफ ने ठुकराया

Imran Khan: जनरल बाजवा को 2016 में नियुक्त किया गया था, लेकिन तीन साल के कार्यकाल के बाद 2019 में उनकी सेवा को और तीन साल के लिए बढ़ा दिया था।

नई दिल्ली:  पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के चीफ इमरान खान के एक प्रस्ताव को प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने खारिज कर दिया है। दरअसल, 29 नवंबर को सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा सेवानिवृत्त हो रहे हैं। बाजवा के उत्तराधिकारी की नियुक्ति को लेकर इमरान ने प्रस्ताव दिया था।

शाहबाज शरीफ ने कहा, “इमरान ने सुझाव दिया था कि हम उन्हें तीन नाम दें और वह सेना प्रमुख के पद के लिए तीन नाम दें और फिर हम उन छह नामों में से नए प्रमुख की नियुक्ति पर फैसला करें।” उन्होंने कहा, “यदि दोनों सूचियों में एक समान नाम है, तो हम सहमत होंगे,” उन्होंने कहा, हालांकि मैंने धन्यवाद कहकर इमरान खान के प्रस्ताव को स्पष्ट रूप से अस्वीकार कर दिया।

2016 में बाजवा को नियुक्त किया गया था सेना प्रमुख

बता दें कि जनरल बाजवा को 2016 में नियुक्त किया गया था, लेकिन तीन साल के कार्यकाल के बाद 2019 में इमरान खान की तत्कालीन सरकार ने उनकी सेवा को और तीन साल के लिए बढ़ा दिया था।

जनरल बाजवा पर इमरान खान की ‘देशद्रोही’ टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए, शहबाज शरीफ ने कहा कि इमरान खान वर्तमान में केवल अपनी व्यक्तिगत इच्छाओं को पूरा करने के लिए सेना नेतृत्व को निशाना बना रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब इमरान खान सत्ता में थे, विपक्ष ने उन पर अपनी पसंद के एक सेना प्रमुख को लाने की कोशिश करने का आरोप लगाया, जो विपक्षी नेताओं को प्रताड़ित करने के उनके कथित एजेंडे का समर्थन कर सके।

पीएम शरीफ ने कहा कि इस साल अप्रैल में सत्ता गंवाने के बाद से समीकरण बदल गया है और अब खान कह रहे हैं कि गठबंधन सरकार लूटी गई संपत्ति को बचाने और आम चुनावों की चोरी करने के लिए अपनी पसंद का एक सेना प्रमुख स्थापित करना चाहती है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -