Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

उठाइए बिना वीजा के विदेश में यात्रा करने का लुत्फ, श्रीलंका दे रहा है 31 मार्च तक भारत समेत सात देशों को मौका

Sri Lanka News: श्रीलंका के विदेश मंत्री अली साबरी ने ट्वीट किया कि श्रीलंका कैबिनेट ने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर तत्काल प्रभाव से 31 मार्च तक भारत, चीन, रूस, मलेशिया, जापान, इंडोनेशिया और थाईलैंड को मुफ्त वीजा जारी करने की मंजूरी दे दी है।

Edited By : khursheed | Updated: Oct 24, 2023 21:23
Share :
अब उठाइए बिना वीजा के विदेश में यात्रा करने का लुत्फ, श्रीलंका दे रहा है 31 मार्च तक भारत समेत सात देशों को मौका

Enjoy traveling abroad without visa Sri Lanka approves free entry for visitors India: श्रीलंका ने पायलट प्रोजेक्ट के तहत भारत सहित सात देशों के नागरिकों को अपने देश में बिना वीजा यात्रा करने का मौका दिया है। इसके तहत भारत, चीन, रूस, मलेशिया, जापान, इंडोनेशिया और थाईलैंड के नागरिक बिना वीजा के इस देश की यात्रा कर सकते हैं और उनसे विजा के लिए किसी तरह का कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा।

श्रीलंका के विदेश मंत्री अली साबरी ने ट्वीट किया कि श्रीलंका कैबिनेट ने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर तत्काल प्रभाव से 31 मार्च तक भारत, चीन, रूस, मलेशिया, जापान, इंडोनेशिया और थाईलैंड को मुफ्त वीजा जारी करने की मंजूरी दे दी है। इससे पहले मार्च में श्रीलंकाई विदेश मंत्री अली साबरी ने कहा था कि भारत के साथ उनके देश का संबंध हमारी विदेश नीति में सबसे महत्वपूर्ण में से एक है।

भारत के 30 हजार से ज्यादा नागरिकों ने श्रीलंका की यात्रा की

इन देशों के पर्यटक अब श्रीलंका के लिए बिना किसी शुल्क के वीजा प्राप्त कर सकते हैं, जो एक महत्वपूर्ण बदलाव है। भारत ऐतिहासिक रूप से श्रीलंका के भीतरी पर्यटन का प्राथमिक स्रोत रहा है। पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, सितंबर के आंकड़ों के अनुसार भारत के 30 हजार से ज्यादा नागरिकों ने श्रीलंका की यात्रा की, जो यहां का कुल विदेशी पर्यटन का 26 प्रतिशत है।

बता दें कि श्रीलंका एक ऐसा देश जो 1948 में ब्रिटेन से स्वतंत्रता प्राप्त करने के बाद से गंभीर आर्थिक चुनौतियों से जूझ रहा है, वर्तमान में राष्ट्रपति राजपक्षे के इस्तीफे की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शनों के कारण राजनीतिक उथल-पुथल जारी है। आर्थिक संकट ने भोजन, दवा, रसोई गैस, अन्य ईंधन, टॉयलेट पेपर और यहां तक ​​कि माचिस सहित बुनियादी आवश्यकताओं की गंभीर कमी को जन्म दिया है। इन कमी के कारण श्रीलंकाई लोग ईंधन और रसोई गैस खरीदने के लिए महीनों से दुकानों के बाहर लंबी कतारें लगा रहे हैं और घंटों इंतजार कर रहे हैं।

First published on: Oct 24, 2023 09:17 PM
संबंधित खबरें