Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

ब्रिटेन का वह सीरियल किलर जिसने सलाखों के पीछे मनाया 50वां क्रिसमस, 21 साल की उम्र में हुई थी जेल

British Serial Killer Served 50th Christmas Behind Bars : 21 साल की उम्र में जेल भेज दिए गए ब्रिटेन के सीरियल किलर रॉबर्ट मॉड्स्ली ने इस बार अपना 50वां क्रिसमस जेल में मनाया।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 30, 2023 15:26
Share :
British serial killer Robert Mawdsley aka 'Hannibal the Cannibal'

British Serial Killer Served 50th Christmas Behind Bars :  ब्रिटेन के एक सीरियल किलर ने अपना 50वां क्रिसमस सलाखों के पीछे बिताया है और वह एकांत कारावास में दुनिया में सबसे ज्यादा समय बिताने वाला अपराधी है। इस शख्स का नाम है रॉबर्ट मॉड्स्ली। 70 साल का रॉबर्ट जेल में 50 साल गुजार चुका है। इनमें से 45 साल वह एकांत कारावास में रहा है।

मॉड्स्ली के बारे में अफवाह उड़ी थी कि जिन लोगों की उसने हत्या की उसमें से एक को मारने के बाद उसने उसका दिमाग खा लिया था। इसके बाद उसका नाम ‘हैनिबल द कैनिबल’ पड़ गया था। मॉड्स्ली की उम्र महज 21 साल थी जब उसे 1974 में जॉन फैरेल की हत्या के जुर्म में जेल भेज दिया गया था।

इसके महज चार साल बाद उसने जेल के अंदर तीन लोगों की हत्या कर दी थी, जिसके बाद उसे एकांत कारावास में रखने का फैसला किया गया था। अब वह 18 बाई 15 फुट की एक सेल में रहता है जिसे खासतौर पर उसी के लिए साल 1983 में बनाया गया था। इस सेल को बुलेटप्रूफ ग्लास से कवर किया गया है।

प्लास्टिक के चम्मच से कर दी कैदी की हत्या

फैरेल की हत्या करने के बाद मॉड्स्ली को ट्रायल के लिए अनफिट बताया गया था। बता दें कि फैरेल को कथित तौर पर चाइल्ड सेक्स ऑफेंडर बताया जाता है। इसके बाद मॉड्स्ली को 1988 में बर्कशायर में स्थित ब्रोडमूर अस्पताल भेजा गया जहां उसने प्लास्टिक के चम्मच से एक कैदी की जान ले ली थी।

उस कैदी के कान में चम्मच मिला था और इसके बाद अफवाह उड़ी कि मॉड्स्ली ने उसके दिमाग का कुछ हिस्सा खा लिया था। इसके बाद मॉड्स्ली को वेस्ट यॉर्कशायर की वेकफील्ड जेल भेजा गया जहां उसने दो और कैदियों की जान ली। इसे देखते हुए 1978 में उसे एकांत कारावास में भेजने का फैसला लिया गया।

चैनल 5 ने मॉड्स्ली पर एक डॉक्यूमेंट्री बनाई थी जिसका नाम ‘एचएमपी वेकफील्ड: ईविल बिहाइंड बार्स’ (HMP Wakefield: Evil Behind Bars) था। इसमें मॉड्स्ली के भतीजे गेविन ने यह बताया था कि बेहद अच्छे तरीके से बात करने वाला और पढ़ा-लिखा उसका चाचा बाकी दुनिया से अलग ही रहना चाहता है।

जिन लोगों की हत्या की वो बहुत बुरे लोग थे

गेविन ने कहा था कि अगर आप उसे दुष्कर्म करने वालों और बच्चों का यौन शोषण करने वाले लोगों के साथ रखेंगे तो वह ऐसे ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान ले लेगा। गेविन के अनुसार यह बात मॉड्स्ली ने खुद उससे कही थी। इसके साथ ही जिन लोगों की उसने हत्या की वह सच में बहुत बुरे इंसान थे।

साल 2021 में उसने क्रिसमस बाकी लोगों के साथ मनाने के लिए अपील दाखिल की थी जो अस्वीकार कर दी गई थी। उससे कहा गया था कि जब तक उसकी मौत नहीं हो जाती तब तक उसे ‘ग्लास बॉक्स’ में ही रहना होगा। उसकी स्पेशल सेल में कंप्रेस्ड कार्डबोर्ड से बनी एक कुर्सी और एक मेज भी है।

अदालत से मांगी थी मरने देने की अनुमति

साल 2000 में मॉड्स्ली ने अदालत से अनुरोध किया था कि उसे मरने की अनुमति दे दी जाए। उसने एक पत्र में लिखा था, ‘दिन में 23 घंटे मुझे बंद करके रखने का क्या मतलब है? मुझे खाना खिलाने और दिन में एक घंटे एक्सरसाइज करने की अनुमति देने का भी क्या औचित्य है? आखिर मैं किसके लिए खतरा हूं?’

मॉड्स्ली ने अपनी सजा के शुरुआती दिनों में बेहतर इलाज की मांग करते हुए अखबारों को पत्र भी लिखे थे।

हैनिबल द कैनिबल को इयान ब्रेडी के बाद सबसे ज्यादा समय तक जेल में रहने वाला कैदी माना जाता है। ब्रेडी ने 51 साल जेल में गुजारे थे और 2017 में उसकी मौत हो गई थी। वहीं, अमेरिकी कैदी अल्बर्ट वुडफॉक्स के नाम पर एकांत कारावास में सबसे ज्यादा समय (43 साल) बिताने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है। साल 2016 में वह जेल से बाहर आया था और पिछले साल उसकी मौत हो गई थी।

ये भी पढ़ें: एक ऐसा क्रूर तानाशाह, जो मसीहा भी कहलाया

ये भी पढ़ें: कतर में कैसे मिली भारत को कूटनीतिक जीत?

ये भी पढ़ें: रूस-यूक्रेन में जारी जंग आख‍िर कब होगी खत्‍म?

First published on: Dec 30, 2023 03:26 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें