Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

गल्फ कंट्री में गिरफ्तार भिखारियों में 90% पाकिस्तानी; पढ़ें ‘द डॉन’ की चौंकाने वाली रिपोर्ट

90% of beggars arrested in Gulf country were Pakistanis: हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान एक बार फिर चर्चा में बना हुआ है। अभी थोड़े दिन पहले विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट जारी कर बताया था कि पाकिस्तान में गरीबी का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। वर्ल्ड बैंक ने कहा था कि पाकिस्तान में एक साल […]

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Sep 28, 2023 15:54
Share :
गल्फ कंट्री में गिरफ्तार भिखारियों में 90% पाकिस्तानी; पढ़ें 'द डॉन' की चौंकाने वाली रिपोर्ट

90% of beggars arrested in Gulf country were Pakistanis: हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान एक बार फिर चर्चा में बना हुआ है। अभी थोड़े दिन पहले विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट जारी कर बताया था कि पाकिस्तान में गरीबी का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। वर्ल्ड बैंक ने कहा था कि पाकिस्तान में एक साल में गरीबी का आंकड़ा 34 फीसदी से बढ़कर 39 फीसदी हो गया है, जिसके कारण नौ करोड़ लोग सीधे गरीबी की चमेट में हैं। अब पाकिस्तान की द डॉन वेबसाइट के हवाले से खबर सामने आई है कि विदेश में गिरफ्तार किए गिए भिखारियों में 90 फीसदी पाकिस्तान से हैं। ईरान और सऊदी अरब की जेलों में बड़ी संख्या में पाकिस्तान के भिखारी बंद हैं। पाकिस्तान सरकार की सीनेट की स्थाई समिति ने बताया कि विदेश में पाकिस्तान के नागरिक बड़ी संख्या में भीख मांगने जाते हैं, जिसके कारण मानव तस्करी को बढ़ावा मिल रहा है।

द डॉन ने किया खुलासा

पाकिस्तान की न्यूज वेबसाइट द डॉन ने एक रिपोर्ट जारी कर बताया कि विदेशों में गिरफ्तार किए गए भिखारियों में 90 प्रतिशत पाकिस्तान के हैं। इस मामले में प्रवासी पाकिस्तानियों पर सीनेट की स्थायी समिति को सूचित किया गया कि पाकिस्तान से बड़ी संख्या में भिखारी विदेश जा रहे हैं, जिससे “मानव तस्करी” को और बढ़ावा मिला है। विदेशी मंत्रालय के सचिव जुल्फिकार हैदर ने स्किल्ड और अनस्किल्ड श्रमिकों के देश छोड़ने के मुद्दे पर सीनेट पैनल में चर्चा के दौरान यह खुलासा किया। कि विदेशों में गिरफ्तार किए गए “90 प्रतिशत भिखारी” पाकिस्तानी मूल के थे।

तीर्थयात्री वीजा का उठाया फायदा

उन्होंने आगे कहा कि कई भिखारियों ने सऊदी अरब, ईरान और इराक की यात्रा के लिए तीर्थयात्री वीजा का फायदा उठाया। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि पवित्र स्थलों पर बड़ी संख्या में जेबकतरों को गिरफ्तार किया गया और उनकी पहचान पाकिस्तानी नागरिकों के रूप में की गई। इस बीच हैदर ने कहा कि जापान अब ऐसे आगंतुकों के लिए एक नए गंतव्य के रूप में उभरा है। इसके अलावा, उन्होंने कुशल श्रम के निर्यात में पाकिस्तान की ऐतिहासिक भूमिका पर जोर दिया और आशा व्यक्त की कि पेशेवरों के विदेश जाने पर देश की विदेशी प्रेषण में वृद्धि होगी। उन्होंने आगे कहा कि सऊदी अरब अब अप्रशिक्षित व्यक्तियों के बजाय कुशल श्रम को प्राथमिकता देता है।

पाकिस्तान में लगभग 50,000 इंजीनियर बेरोजगार

हसन ने यह भी कहा कि पाकिस्तान में लगभग 50,000 इंजीनियर बेरोजगार हैं। सीनेटर ने कहा, “भारत चांद पर पहुंच गया है, जबकि हम हर दिन ठोकर खाते हैं।” उन्होंने यह भी बताया कि लगभग तीन मिलियन लोग सऊदी अरब में हैं, 1.5 मिलियन पाकिस्तानी संयुक्त अरब अमीरात में और 0.2 मिलियन कतर में हैं।

First published on: Sep 28, 2023 03:45 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें