Thursday, December 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

भारत का पहला मंकीपॉक्स का मरीज हुआ ठीक, त्वचा पर हुए लाल दाग साफ

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि भारत का पहला मंकीपॉक्स का मरीज संक्रमण से पूरी तरह ठीक हो गया है।

नई दिल्ली: भारत के केरल राज्य में मिले पहले मंकीपॉक्स के पहले मरीज को वायरस के संक्रमण से पूरी तरीके से ठीक कर लिया गया है। 35 वर्षीय कोल्लम मूल निवासी को आज 30 जुलाई को सरकारी मेडिकल कॉलेज से छुट्टी मिल जाएगी।

यूएई से आने के बाद व्यक्ति ने मंकीपॉक्स के लिए पॉजिटिव टेस्ट किया था। वह 12 जुलाई को त्रिवेंद्रम हवाई अड्डे पर पहुंचा और 14 जुलाई को उन्हें मंकीपॉक्स के लक्षणों के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया।

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा, ‘सभी नमूने दो बार नेगेटिव आए। रोगी शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ है। त्वचा के धब्बे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। उन्हें आज छुट्टी दे दी जाएगी।’

इस बीच, संक्रमण के लिए सकारात्मक परीक्षण करने वाले दो अन्य व्यक्तियों की स्वास्थ्य स्थिति भी संतोषजनक है। राज्य में मंकीपॉक्स के पहले तीन मामले सामने आने के बाद केरल सरकार ने रोकथाम और निगरानी के उपाय तेज कर दिए हैं।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, मंकीपॉक्स एक वायरल जूनोसिस (जानवरों से मनुष्यों में प्रसारित होने वाला वायरस) है, जिसमें चेचक के रोगियों में अतीत में देखे गए लक्षणों के समान लक्षण होते हैं। हालांकि यह चिकित्सकीय रूप से कम गंभीर है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -