Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

हाईवे पर बनी थी मजार, फोटो हुआ वायरल तो रात में बुलडोजर लेकर पहुंचा प्रशासन

Nashik-Chandwad Highway Tomb : नासिक-चंदवाड हाईवे के बीच में बनी एक मजार को लेकर बीजेपी विधायक नितेश राणे ने कहा कहा था कि अगर यह मजार नहीं हटाई गई तो पास में ही हम एक मंदिर बना देंगे। फोटो वोरल होने के बाद प्रसाशन ने इस मजार को हटा दिया है।

Edited By : Avinash Tiwari | Updated: Mar 2, 2024 14:23
Share :
Nashik-Chandwad Highway
Nashik-Chandwad Highway

Nashik-Chandwad Highway Tomb : महाराष्ट्र के नासिक का एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ, इस फोटो में हाईवे के बीच में एक मजार बनाई गई थी। फोटो वायरल होने के बाद इस पर खूब बवाल हुआ। कई लोगों ने कहा कि अगर इस मजार को नहीं हटाया गया तो वहां एक मंदिर भी बनाया जाएगा। कहा जा रहा है कि फोटो वायरल होने के बाद प्रशासन हरकत में आया और रात में ही बुलडोजर लेकर पहुंच गया।

हाईवे पर बनी थी मजार 

मामला महाराष्ट्र के नासिक-चंदवाड हाईवे का है, जहां डिवाइडर के बीच में ही एक मजार बना दी गई थी। बीजेपी विधायक नितेश राणे ने इसको लेकर सवाल उठाया और कई आरोप लगाए थे। नितेश राणे का कहना था कि इस मजार पर फूल चढ़ाने किए मालेगांव से मौलाना को बुलाया गया था।

वहीं बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया कि मजार बनाने के लिए एक अधिकारी ने 20 हजार रुपये भी लिए, इसकी शिकायत नितिन गडकरी से भी की गई। नितेश राणे ने कहा था कि अगर हाईवे के बीच में बनी मजार पर बुलडोजर नहीं चला तो हम वहीं पर हनुमान मंदिर बनाएंगे।

देखिए वीडियो


इसके बाद इस मजार की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई और प्रशासन पर सवाल उठने लगे। अब एक और तस्वीर वायरल हो रहा है जिसमें देखा जा सकता है कि मजार वाली जगह पर कुछ अधिकारी और बुलडोजर पहुंच हुआ है। इस मजार को प्रसाशन ने हटा दिया है।


मजार हटाए जाने की फोटो शेयर कर नितेश राणे ने लिखा कि ये हिन्दू सरकार है, याद रखना। नितेश राणे के इस पोस्ट पर तमाम लोगों की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। एक ने लिखा कि अच्छा किया कि उसे हटा दिया , अब जितने में इस तरह मजार या मंदिर बने हैं, सब पर कार्रवाई हो। एक ने लिखा कि हिन्दू सरकार है ठीक है लेकिन कम से कम से अवैध निर्माण पर कार्रवाई हुई है, ये कहने में क्या दिक्कत है?

बता दें कि सोशल मीडिया पर तमाम लोग इस कार्रवाई पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। कुछ इसे धार्मिक चश्मे से देख रहे हैं तो कुछ का कहना है कि इस तरह के अवैध निर्माण पर कार्रवाई होनी ही चाहिए चाहे वो किसी धर्म से जुड़े क्यों न हों।

First published on: Mar 02, 2024 02:23 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें