Saturday, October 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Kanpur News: बैंक में रखे-रखे सड़ गए 42 लाख के नोट, RBI की जांच में हुआ बड़ा खुलासा

इसमें 14,74,500 रुपये कम पाए गए। साथ ही बैंक में मौजूद अधिकतम और न्यूनतम रकम में 10 लाख का फर्क भी देखा गया था। साथ ही 10 और 20 रुपये के करीब 128 बंडल खराब मिले थे।

Kanpur News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) जिले में बैंकर्स की हेराफेरी और फिर घोर लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) की एक शाखा के करेंसी चेस्ट (currency chest) में रखे 42 लाख के नोट रखे-रखे सड़ गए हैं। आरबीआई (RBI) के ऑडिट (RBI audit) में इसका खुलासा होने पर शाखा के चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। वहीं इससे पहले बैंक के ऑडिट में अधिकतम और न्यूनतम राशि में करीब 10 लाख रुपये का अंतर भी पाया गया था। मामले की जांच में जुट गए हैं।

जुलाई में बैंक की शाखा का हुआ था ऑडिट

जानकारी के मुताबिक 25 जुलाई से लेकर 29 जुलाई 2022 तक आरबीआई के अफसरों ने कानपुर में पंजाब नेशनल बैंक की पांडू नगर शाखा के करेंसी चेस्ट का निरीक्षण किया था। इसमें 14,74,500 रुपये कम पाए गए। साथ ही बैंक में मौजूद अधिकतम और न्यूनतम रकम में 10 लाख का फर्क भी देखा गया था। साथ ही 10 और 20 रुपये के करीब 128 बंडल खराब मिले थे। आरबीआई के निर्देशों पर इनकी गिनती कराई गई तो पता चला कि ये रकम 42 लाख रुपये है।

चार अधिकारियों को निलंबित किया गया

इसी मामले में वरिष्ठ प्रबंधक करेंसी चेस्ट देवी शंकर को निलंबित कर दिया। जानकारी के मुताबिक तीन और अफसरों को भी इसी मामले में निलंबित किया गया है। इन तीन में से दो अधिकारियों ने इसी साल जून और जुलाई में बैंक की इस शाखा में चार्ज लिया था। वहीं वी बैंकर्स के राष्ट्रीय संजोयक कमलेश चतुर्वेदी ने बैंक के बड़े अधिकारियों पर भी कार्रवाई करने की मांग की है। उनका आरोप है कि बैंक का प्रबंधन बड़े अधिकारियों को बचाना चाहता है। इसलिए शाखा के अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है।

बैंक प्रबंधन पर लगाए गंभीर आरोप

सूत्रों के मुताबिक बैंक की इस शाखा में करेंसी चेस्ट अंडरग्राउंड है। ये सभी नोट बक्शों में भरकर रखे गए थे। इसकी चारों दीवारें कंक्रीट की बनी हैं। सामने आया है कि बैंक में नया कैश आता गया और इन पुराने नोटों के बक्शे पीछे खिसकते चले गए। अंडरग्राउंड होने के कारण यहा सीलन भी काफी है, इसलिए 42 लाख के नोट गलन के कारण सड़ गए। साथ ही सामने आया है कि मामले में बैंक की घोर लापरवाही रही, क्योंकि यदि करेंसी चेस्ट में नियमित नोटों की गिनती होती तो 42 लाख के नोट नहीं सड़ते।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -