Sunday, December 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Mainpuri By-Election: मंच पर चाचा के छूए पैर, फिर अखिलेश यादव ने कहा- पूरा देश देखेगा ऐतिहासिक जीत, Video

Mainpuri By-Election: रविवार को चुनाव प्रचार में अखिलेश यादव, पीएसपी (एल) प्रमुख शिवपाल सिंह यादव और सपा महासचिव रामगोपाल यादव ने मंच साझा किया।

Mainpuri By-Election: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की मैनपुरी लोकसभा सीट (Mainpuri Lok Sabha Seat) पर होने वाले उपचुनाव (By-Election) के लिए पार्टियों की ओर से प्रचार शुरू हो गया है। रविवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की ओर सभी यहां चुनावी रैली का आयोजन हुआ, जिसमें सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने मंच पर अपने चाचा शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) के पैर छुए और कहा कि उनके रिश्ते में कभी कोई तनाव नहीं आया है। अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी इस उपचुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करेगी।

10 अक्टूबर को मुलायम सिंह का हुआ था निधन

बता दें कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को मैनपुरी लोकसभा सीट से उतारा गया है। इस सीट का प्रतिनिधित्व सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव करते थे, जिनका 10 अक्टूबर को बीमारी के कारण गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया था। इसके बाद यह सीट खाली हुई थी।

प्रचार के दौरान अखिलेश यादव ने चुनावी जनसभा के दौरान कहा कि उपचुनाव ऐसे समय में हो रहे हैं, जब ‘नेताजी’ हमारे बीच नहीं हैं। पूरा देश इस चुनाव को देख रहा है, और मैं कह सकता हूं कि पूरा देश देखेगा, समाजवादी पार्टी कैसे ऐतिहासिक जीत दर्ज करती है।

विरोध के बाद अलग हुए थे चाचा-भतीजा

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रविवार को डिंपल यादव के पक्ष में हुई समाजवादी पार्टी की रैली में अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव भी मौजूद रहे। मीडिया रिपोर्ट्स पर गौर करें तो 2017 से उपजे विरोध के बाद अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव ने 2022 के यूपी विधानसभा चुनावों से पहले अलग होने का फैसला लिया था। मुलायम सिंह यादव के कहने पर दोनों ने अलग-अलग मोर्चा खड़ा किया था।

‘कोई दूरियां नहीं हैं’

अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि कभी-कभी लोग कहते हैं कि ‘दूरियां’ है। ‘चाचा’ और ‘भतीजा’ के बीच कोई ‘दूरियां’ नहीं थी। राजनीति में ‘दूरियां’ थीं। मैंने कभी किसी पर विचार नहीं किया। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि आज ये राजनीति में ‘दूरियां’ भी खत्म हो गई है।

ये लोग रहे मंच पर मौजूद

उन्होंने कहा कि इसके कारण भाजपा भयभीत महसूस कर रही है। भाजपा जानती है कि जसवंतनगर के लोगों ने सपा के पक्ष में अपना मन बना लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रविवार को चुनाव प्रचार में अखिलेश यादव, पीएसपी (एल) प्रमुख शिवपाल सिंह यादव और सपा महासचिव रामगोपाल यादव ने मंच साझा किया। बता दें कि अखिलेश यादव ने पिछली बार गुरुवार को अपनी पत्नी (पार्टी उम्मीदवार डिंपल यादव) के साथ शिवपाल यादव से उनके घर पर मुलाकात की थी।

ये पांच विस सीटें आती हैं मैनपुरी में

मैनपुरी संसदीय क्षेत्र में पांच विधानसभा क्षेत्र मैनपुरी, भोगांव, किशनी, करहल और जसवंत नगर आते हैं। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी ने करहल, किशनी और जसवंत नगर सीटों पर जीत हासिल की। जबकि भाजपा ने मैनपुरी और भोगांव सीट पर जीत हासिल की।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -