Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

UP News: मणिपुर हिंसा में फंसे यूपी के छात्रों को निकालेंगे CM योगी; रेस्क्यू ऑपरेशन में लगाए अधिकारी

Manipur Violence: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को हिंसाग्रस्त मणिपुर में फंसे छात्रों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में सीएम ने निर्देश दिए कि छात्रों को हर संभव सहायता प्रदान करें। उन्हें सकुशल वहां से निकालें। इसके बाद यूपी के प्रधान सचिव संजय प्रसाद ने मणिपुर के मुख्य सचिव […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: May 7, 2023 18:25
Share :
The Kerala Story,UP,Yogi Adityanath, politics on kerala story

Manipur Violence: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को हिंसाग्रस्त मणिपुर में फंसे छात्रों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में सीएम ने निर्देश दिए कि छात्रों को हर संभव सहायता प्रदान करें। उन्हें सकुशल वहां से निकालें। इसके बाद यूपी के प्रधान सचिव संजय प्रसाद ने मणिपुर के मुख्य सचिव से बात की और छात्रों की हर संभव मदद का अनुरोध किया।

यूपी के प्रधान सचिव ने मणिपुर के मुख्य सचिव से बात

समाचार एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सीएम योगी ने गृह विभाग को मदद के निर्देश दिए हैं। प्रमुख सचिव संजय प्रसाद ने मणिपुर के मुख्य सचिव से बात की। साथ ही यूपी के राहत आयुक्त कार्यालय को मणिपुर सरकार से समन्वय की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

महाराष्ट्र के 22 छात्रों को लाने के लिए सीएम शिंदे ने भेजा विमान

इस बीच, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने रविवार को कहा कि हिंसा प्रभावित मणिपुर में फंसे महाराष्ट्र के 22 छात्रों को सुरक्षित निकालने के लिए एक विशेष विमान की व्यवस्था की गई है। सीएम शिंदे ने बयान में कहा कि महाराष्ट्र में 22 छात्रों को जल्द ही विमान से लाया जाएगा।

उत्तराखंड सरकार इंफाल में फंसी इशिता को निकालेगी

उधर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय, इंफाल में पढ़ने वाली राज्य की छात्रा इशिता सक्सेना को वापस लाने के निर्देश दिए हैं। बताया गया है कि इशिता सक्सेना ने उत्तराखंड सरकार को एक ईमेल के माध्यम से उसे सुरक्षित निकालने का अनुरोध किया था, जिसके बाद सीएम धामी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इशिता को लाने का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।

सेना ने 23 हजार लोगों को निकाला

बता दें कि भारतीय सेना और असम राइफल्स ने राज्य में डेरा डाल रखा है। हिंसा को रोकने के साथ-साथ सैन्य बल ने अब तक करीब 23,000 नागरिकों को सफलतापूर्वक बचा कर ऑपरेटिंग बेस कैंप में ले जाया गया है। यह जानकारी भारतीय सेना के एक बयान में रविवार को जारी की।

मणिपुर के सीएम ने की अहम बैठक

इस बीच, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने राज्य में हिंसा के मद्देनजर मणिपुर अखंडता पर समन्वय समिति (COCOMI) के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। बीरेन सिंह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कांग्रेस, एनपीएफ, एनपीपी, माकपा, आम आदमी पार्टी और शिवसेना समेत कई राजनीतिक दल शामिल हुए।

ट्विटर पर सीएम एन बीरेन सिंह ने लिखा कि मणिपुर में मौजूदा स्थिति के मद्देनजर, राज्य में शांति लाने में नागरिक समाज संगठनों की महत्वपूर्ण भूमिका को उजागर करने के लिए ‘मणिपुर अखंडता पर समन्वय समिति (COCOMI)’ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

उत्तर प्रदेश की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंः-

First published on: May 07, 2023 06:25 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें