---विज्ञापन---

‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ गीत का निर्माण करने वाले यूपी कांग्रेस के महासचिव शरद मिश्रा, जिन्होंने समाजसेवा से राजनीति तक नए आयाम गढ़े

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव शरद मिश्रा ( Sharad Mishra ) किसी पहचान के मौहताज नहीं। उनके राजनीतिक और व्यक्तिगत यात्रा को जानने वाले कहते हैं कि मिश्रा ने समाज सेवा को ही अपने जीवन का लक्ष्य मान लिया है। और वे निरंतर ‘नर सेवा नारायण सेवा’ के भाव से अग्रसर हैं। […]

Edited By : Pulkit Bhardwaj | Updated: Aug 5, 2022 19:21
Share :
Sharad Mishra
Sharad Mishra

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव शरद मिश्रा ( Sharad Mishra ) किसी पहचान के मौहताज नहीं। उनके राजनीतिक और व्यक्तिगत यात्रा को जानने वाले कहते हैं कि मिश्रा ने समाज सेवा को ही अपने जीवन का लक्ष्य मान लिया है। और वे निरंतर ‘नर सेवा नारायण सेवा’ के भाव से अग्रसर हैं।

शरद मिश्रा ने कोरोना काल और लॉक डाउन के दौरान भी लोगों की हर स्तर पर मदद की। चाहे वह ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने की बात हो या फिर कोविड राहत कोष में आर्थिक सहायता देने की बात हो, हर मोर्चे पर, ख़ुद की परवाह किए बग़ैर उन्होंने लोगों की मदद में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

अपने हर सपने को जीने और सच साबित करने वाले शरद मिश्रा ने राजनीति, समाज सेवा से जुड़े रहने के अलावा सिनेमा के क्षेत्र में भी कदम रखा है। उन्होंने अपना खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू किया और फिल्म बनाने का इरादा मन में रख कर एक कदम उस दिशा में भी बढ़ा दिया है।

शरद मिश्रा (Sharad Mishra) ने कांग्रेस के तीन प्रचार गीतों का निर्माण किया। ये तीनों गाने यूट्यूब पर रिलीज होने के साथ-साथ पार्टी रैलियों और बैठकों में बजाए और गाए गए। कांग्रेस पार्टी की मंशा को देखते हुए शरद मिश्रा ने इन तीनों गानों को प्रोड्यूस किया था।

गीत “लड़की हूं लड़ सकती हूं” 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी का थीम सॉन्ग रहा जिसे प्रसिद्ध बॉलीवुड सिंगर स्वाति शर्मा द्वारा गाया गया, जबकि एक अन्य गीत हम वचन निभाएंगे शाहिद माल्या द्वारा गाया गया है। तीसरा गाना शबाब साबरी ने गाया है जो महंगाई के मुद्दे पर है। इन तीनों गानों को पंछी जलोंवी ने कंपोज किया है। केन्द्रीय फ़िल्म प्रमाणन बोर्ड के सदस्य रहे शरद मिश्रा के इन गानों को पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला द्वारा लखनऊ में लॉन्च किया गया था।

‘साफ़ नीयत और नेक इरादे’ को अपना धेय वाक्य मानने वाले शरद मिश्रा छात्र जीवन से ही कांग्रेस में शामिल होकर राजनीति में लगातार सक्रिय रहे। अपनी मेहनत और लगन की बदौलत शरद मिश्रा आज उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव 2022 में कांग्रेस को जनता के बीच मजबूती से खड़ा करने और बूथ स्तर पर पार्टी को सक्रिय बनाने में उनकी भूमिका काफी अहम रही है।

शरद मिश्रा की ईमानदारी, कर्मठता, जूझारुपन एवं कर्तव्यनिष्ठा को देखते हुए पिछले साल अक्टूबर में उन्हें शीर्ष नेतृत्व द्वारा प्रदेश महासचिव की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, इससे पहले वे एनएसयूआई युवा कांग्रेस और राष्ट्रीय कांग्रेस में विभिन्न पदों पर कार्य कर अपनी काबिलियत एवं पार्टी के प्रति अपना समर्पण साबित कर चुके हैं।

शरद मिश्रा का मानना है कि जब कांग्रेस पार्टी सत्ता में आएगी तो भारत को एक सूत्र में बांधने वाली गंगा जमुनी तहज़ीब और आपसी भाईचारे की परंपरा को वापस लाने का काम किया जाएगा। उसके बाद बेरोजगारी, सामाजिक और आर्थिक रूप से विकलांग लोगों, किसानों आदि की सभी समस्याओं पर काम किया जाएगा।

First published on: Aug 05, 2022 03:07 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें