Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

पंजाब के शहरी विकास मंत्री बोले-‘निवेश के लिए इरादा बनाओ, पंजाब सरकार सहयोग के लिए तैयार’

चंडीगढ़: पंजाब के आवास निर्माण और शहरी विकास और सूचना एवं लोक संपर्क मंत्री अमन अरोड़ा ने निवेशकों को राज्य में निवेश करने का न्योता देते हुये कहा कि पंजाब में देश भर के टेक्स्टाईल और ऐपरल उत्पादन में अग्रणी राज्य बनने की अथाह संभावनाएं हैं क्योंकि मुख्यमंत्री स. भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब […]

Edited By : Amit Kasana | Updated: Feb 25, 2023 11:54
Share :
Aman Arora, Punjab Government, AAP, Bhagwant Mann, Punjab News
प्रतीकात्मक तस्वीर

चंडीगढ़: पंजाब के आवास निर्माण और शहरी विकास और सूचना एवं लोक संपर्क मंत्री अमन अरोड़ा ने निवेशकों को राज्य में निवेश करने का न्योता देते हुये कहा कि पंजाब में देश भर के टेक्स्टाईल और ऐपरल उत्पादन में अग्रणी राज्य बनने की अथाह संभावनाएं हैं क्योंकि मुख्यमंत्री स. भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार उद्योगों का समर्थन कर रही है।

और पढ़िए –हिन्दूजा ग्रुप ने पंजाब में इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण की इच्छा जताई

हर तरह की सहायता देने की पेशकश की

शुक्रवार को इंडिया स्कूल आफ बिज़नेस ( आई. एस. बी.), एस. ए. एस. नगर (मोहाली) में 5वें प्रोग्रेसिव पंजाब इनवेस्टर्ज़ समिट 2023 के दूसरे दिन ‘‘पंजाब में टेक्स्टाईल-नीति, बुनियादी ढांचा, लिंकेज और रुझान’’ सैशन की अध्यक्षता करते हुये अमन अरोड़ा ने उद्योगपतियों को प्रसनलाईज़ड टास्क फोर्स सहित हर तरह की सहायता देने की पेशकश की।

मसले जल्द हल किये जा सकें

आगे मंत्री ने कहा कि उद्योगपति एक टास्क फोर्स बना सकते हैं, जिसमें वह अपनी मर्ज़ी अनुसार सरकारी अधिकारियों को चुन सकते हैं, जिससे उनके मसले जल्द हल किये जा सकें। उन्होंने भरोसा दिया कि उद्योगों की मांग अनुसार पानी के खर्चे भी घटाऐ जाएंगे। उन्होंने उद्योगपतियों से अपील की कि वह राज्य में औद्योगिक क्रांति के लिए अपने विचार पेश करें और मान सरकार इन विचारों का स्वागत करेगी।

अनुकूल माहौल और कुशल श्रम मुहैया करवाएंगे

अमन अरोड़ा ने कहा कि यह सम्मेलन राज्य में निवेश को काफी बढ़ावा देगा, जिससे औद्योगिक विकास को नये राह पर ले जाने में मदद मिलेगी। पंजाब सरकार के पारदर्शी और ईमानदार शासन के मॉडल के कारण पंजाब निवेश के लिए सबसे पसन्दीदा स्थान के तौर पर उभरा है। उन्होंने कहा कि उद्योगों को सिर्फ़ सपोर्ट सिस्टम और अनुकूल वातावरण चाहिए और मान सरकार पहले ही उद्योगों को अनुकूल माहौल और कुशल श्रम मुहैया करवाने के साथ-साथ कारोबार करने की सुविधा को यकीनी बनाने के लिए ठोस प्रयास कर रही है।

और पढ़िए –CBI Searches In Punjab: रिश्वतखोरी मामले में कार्रवाई, FCI अधिकारियों के 30 से अधिक लोकेशन पर छापेमारी

1.2 लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा 

मंत्री ने आगे कहा कि पंजाब के तीन ज़िले लुधियाना, जालंधर और अमृतसर टेक्स्टाईल और ऐपरल उद्योग के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने आगे कहा कि राज्य में टेक्स्टाईल और ऐपरल की 1200 इकाईयां हैं, जिनमें 1.2 लाख से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष तौर पर रोज़गार मिला हुआ है। बता दें कि पंजाब में ट्राइडेंट, नाहर, वर्धमान, शिंगोरा, स्पोर्टकिंग, निविया, सावी, अवनि टेक्सटाइल्ज़, जेसीटी मिल्लज़, और इंडियन एक्रेलिकस सहित प्रमुख टेक्स्टाईल दिग्गज़ हैं और हाल ही में सनाथन टेक्स्टाईल ने राज्य में 1600 करोड़ रुपए का निवेश किया है। इसके साथ ही पंजाब ने ज़ारा, एच एंड एम से लेकर जेसी पैनी जैसे अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों के लिए कपड़े और राष्ट्रमंडल खेलों में इस्तेमाल की जा रही नैट बालें तैयार करके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक विशेष स्थान बनाया है।

11 प्रमुख विशेष अनुसंधान संस्थाएं

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पंजाब में टेक्स्टाईल क्षेत्र में 11 प्रमुख विशेष अनुसंधान संस्थाएं हैं। इसके अलावा, पंजाब में लगभग 80,000 विद्यार्थियों के दाखि़ले की क्षमता वाली 350 से अधिक आई. टी. आईज़. हैं जिनमें टेक्स्टाईल और ऐपरल सैक्टर कोर्सों समेत 70 से अधिक कोर्स करवाए जाते हैं। इसके साथ ही राज्य में 60,000 ट्रेनिंग क्षमता वाले 1000 से अधिक हुनर विकास केंद्र हैं। टेक्स्टाईल और ऐपरल सैक्टर के अंतर्गत पंजाब हुनर विकास मिशन की तरफ से 250 प्रशिक्षण भाईवालों को सूचीबद्ध किया गया है।

और पढ़िए – प्रदेश से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

First published on: Feb 24, 2023 05:46 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें