Friday, October 7, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

पंजाब चर्च में बेअदबी का मामला, दोषियों को जल्द ही किया जाएगा काबू: ADGP अर्पित शुक्ला

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव के निर्देर्शो पर पुलिस के एडीशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (एडीजीपी) कानून और व्यवस्था अर्पित शुक्ला ने गुरुवार को तरन तारन के चर्च में बेअदबी और आग लगने की घटना की जांच कर रही विशेष जांच टीम (एस. आई. टी.) के साथ मीटिंग की।

चंडीगढ़/ तरन तारन: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव के निर्देर्शों पर पुलिस के एडीशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (एडीजीपी) कानून और व्यवस्था अर्पित शुक्ला ने गुरुवार को तरन तारन के चर्च में बेअदबी और आग लगने की घटना की जांच कर रही विशेष जांच टीम (एस. आई. टी.) के साथ मीटिंग की। बाद में, ए. डी. जी. पी. ने एस. आई. टी. मैंबरों के साथ अब तक की जांच की स्थिति संबंधी विचार-विमर्श के लिए घटना स्थल का दौरा भी किया।

ज़िक्रयोग्य है कि तरन तारन के गाँव ठाकरपुरा की चर्च में घटित बेअदबी और आग लगने की घटना की प्रभावी और तेज़ी से जांच को यकीनी बनाने के लिए इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस (आईजीपी) फ़िरोज़पुर रेंज के नेतृत्व में तीन सदस्यीय विशेष जांच टीम (ऐसआईटी) का गठन किया गया था जिसमें एस. एस. पी. तरन तारन और एस. पी. इन्वेस्टिगेशन तरन तारन सदस्यों के तौर पर शामिल हैं। यह घटना 30 और 31 अगस्त की बीच का रात को हुई थी।

ए. डी. जी. पी. अर्पित शुक्ला ने चर्च के बाहर मीडिया को संबोधन करते हुये एस. आई. टी. द्वारा की जा रही जांच पर संतोष व्यक्त करते हुये कहा कि मुलजिमों को जल्द गिरफ़्तार कर लिया जायेगा। उन्होंने आगे कहा कि जांच सही दिशा की तरफ जा रही है। दोषी जल्दी ही सलाखों के पीछे होंगे और उनके विरुद्ध सख़्त कार्यवाही यकीनी बनाई जायेगी।
ज़िक्रयोग्य है कि मुख्यमंत्री ने डीजीपी गौरव यादव को इस घटना जोकि राज्य की शांति, खुशहाली और तरक्की को भंग करने वाले शरारती तत्वों की करतूत है, की बारीकी से जांच करने के निर्देश दिए थे। घटना सम्बन्धी एफ. आई. आर नं. 148 तारीख़ 31-8-2022 को तरन तारन के थाना सदर पट्टी में भारतीय आचार संहिता ( आई. पी. सी.) की धारा 295-ए, 452, 427, और 34 और हथियार एक्ट की धारा 25 के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया था। ए. डी. जी. पी. ने भारत-पाक सरहद पर बी. एस. एफ. अधिकारियों के साथ भी मीटिंग की।

ए. डी. जी. पी. अर्पित शुक्ला ने भारत-पाक की अंतरराष्ट्रीय सरहद का दौरा किया और सीमा सुरक्षा बल (बी. एस. एफ.) के अधिकारियों के साथ मीटिंग भी की जिससे पंजाब की सरहदों पर ड्रोन कार्यवाहियों, जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक नये खतरे के तौर पर सामने आ रही है, का मुकाबला करने के लिए रणनीतियों पर चर्चा की जा सके।

बी. एस. एफ और पंजाब पुलिस के दरमियान पूरे तालमेल और टीम वर्क के साथ काम करने का न्योता देते हुये ए. डी. जी. पी. ने बी. एस. एफ. को पूर्ण सहयोग का भरोसा दिलाया और कहा कि अब समय आ गया है कि दोनों कुलीन बलों को एक टीम के तौर पर काम करना चाहिए। उन्होंने बी. एस. एफ अधिकारियों को शक्की व्यक्तियों की गतिविधियों संबंधी सैक्टर- वार जानकारी पंजाब पुलिस के साथ सांझा करने के लिए भी कहा जिससे वह उनकी गतिविधियों पर पैनी नज़र रख सकें और किसी भी अपराधिक गतिविधि में शामिल पाये जाने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही को यकीनी बनाया जा सके।

एडीजीपी अर्पित शुक्ला ने सरहदी जिलों के एसएसपीज़ को भी हिदायत की कि वह अपने- अपने अधिकार क्षेत्रों में ख़ास तौर पर रात के समय पर दूसरी सुरक्षा पंक्ति पर पुलिस चौकियों को मज़बूत करें और हर नाके पर अधिक से अधिक वाहनों की चैकिंग को यकीनी बनाएं, जिससे आतंकवादी और अपराधिक गतिविधियों पर नकेल डालने में मदद मिलेगी। उन्होंने यह भी सलाह दी कि सभी नाकों को इस तरीके से तालमेल करना चाहिए कि वे किसी भी गतिविधि के समय एक ही कॉल पर तुरंत सक्रिय हो जाएं।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -