---विज्ञापन---

सुशांत राजपूत और दिशा सालियान डेथ केस में आदित्य ठाकरे से हो पूछताछ, बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर

Disha Salian, Sushant Singh Rajput Death Case Enquiry: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान आत्महत्या मामले में युवा सेना चीफ एवं शिवसेना UBT के विधायक आदित्य ठाकरे से पूछताछ की जाए। इसे लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। यह याचिका एक संगठन के अध्यक्ष रशीद ख़ान पठान ने दायर […]

Edited By : Vinod Jagdale | Updated: Oct 3, 2023 12:29
Share :
Disha Salian, Sushant Singh Rajput
Disha Salian, Sushant Singh Rajput

Disha Salian, Sushant Singh Rajput Death Case Enquiry: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान आत्महत्या मामले में युवा सेना चीफ एवं शिवसेना UBT के विधायक आदित्य ठाकरे से पूछताछ की जाए। इसे लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। यह याचिका एक संगठन के अध्यक्ष रशीद ख़ान पठान ने दायर की है। याचिका पर पहली सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट के मुख्य न्यायधीश देवेंद्र उपाध्याय और न्यायधिश आरिफ़ डॉक्टर के सामने हुई। जल्द ही इस पर विस्तार से सुनवाई होने के आसार हैं।

यह भी पढ़ें: दुनिया में कैंसर मरीजों के मामले में तीसरे स्थान पर भारत, ICMR बोला- फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर घर-घर जाकर करें स्क्रीनिंग

क्या कहा गया है याचिका में…

सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान आत्महत्या मामले में ठाकरे परिवार के तीसरे वारिस आदित्य ठाकरे को हिरासत में लेकर पूछताछ की जानी चाहिए। 8 जून 2020 को दिशा सालियान, आदित्य ठाकरे, राहुल कनाल, सूरज पंचोली, सचिन वाझे और एकता कपूर कहां थे, यह जानने के लिए इनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की जानी चाहिए, क्योंकि हादसे की शाम यह सभी घटनास्थल के 100 मीटर के दायरे में एक साथ ही थे।

यह भी पढ़ें: एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर में शारीरिक संबंध बनाना दुष्कर्म है या नहीं, पढ़ें हाईकोर्ट की विशेष टिप्पणी

13 जून और 14 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत, रिया चक्रवर्ती, अरबाज़ ख़ान, शौविक चक्रवर्ती, आदित्य ठाकरे और संदीप सिंह कहां थे, इनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करने से पता चल जाएगा। इलाके में लगे CCTV कैमरों की 2 दिन की फुटेज चैक की जानी चाहिए, क्योंकि सुशांत की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती और आदित्य ठाकरे के बीच 44 बार फ़ोन पर बातचीत हुई, लेकिन दोनों के बीच क्या बातें हुईं, इसकी जांच होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें: स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट उम्र साबित नहीं करता…रेप केस में हाई कोर्ट की टिप्पणी

2 महीने पहले राहुल कनाल ने शिवसेना UBT को अलविदा कहकर शिवसेना शिंदे गुट में प्रवेश किया था, तब आरोप लगा था कि दिशा सालियान मामले में कारवाई के डर से राहुल ने शिंदे गुट का दामन थामा था, तब राहुल कनाल ने मांग की थी कि दिशा सालियान की फाइल फिर से खोल कर गहरी जांच की जाए। आखिर मामला क्या है और ऐसा आरोप क्यों लगा, हाईकोर्ट को केस की फाइलें खोलकर इस एंगल से जांच करनी चाहिए।

First published on: Oct 03, 2023 12:18 PM
संबंधित खबरें