Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

MP News: रिटायर्ड सहायक यंत्री के घर पर की गई छापेमारी, 6 मकान, गाड़ियां समेत करोड़ों की संपत्ति उजागर

बालाघाट: मध्यप्रदेश में आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही हैं और कई संपत्तियों को जप्त भी किया जा रहा है। इसी कड़ी में बालाघाट के भटेले में एक निजी स्कूल के पीछे निवासरत विद्युत विभाग के रिटायर्ड सहायक यंत्री के यहां अल सुबह ईओडब्लू जबलपुर की टीम ने छापेमारी की। इस रेड […]

Edited By : Siddharth Sharma | Updated: Aug 5, 2022 15:03
Share :
मध्यप्रदेश eow raid
मध्यप्रदेश

बालाघाट: मध्यप्रदेश में आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही हैं और कई संपत्तियों को जप्त भी किया जा रहा है। इसी कड़ी में बालाघाट के भटेले में एक निजी स्कूल के पीछे निवासरत विद्युत विभाग के रिटायर्ड सहायक यंत्री के यहां अल सुबह ईओडब्लू जबलपुर की टीम ने छापेमारी की। इस रेड में टीम को करोड़ो की संपत्ति मिली है। टीम द्वारा की गई प्रारंभिक कार्यवाही में रिटायर्ड सहायक यंत्री के यहां से 6 आलीशान मकान, एक दर्जन प्लॉट सहित कई महंगे वाहन मिले हैं। ओडब्ल्यू की जांच फिलहाल जारी है, जांच के बाद ही पूरी संपति का खुलासा हो पाएगा।

आर्थिक प्रकोष्ठ द्नारा हर माह की जा रही है कहीं ना कहीं कार्रवाई – डीएसपी

आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ के डीएसपी मनजीत सिंह ने बताया कि भ्रष्टाचार और आय से अधिक संपत्ति मामले में हर माह कहीं न कहीं कार्रवाई हो रही है। रिटायर्ड सहायक यंत्री दयाशंकर प्रजापति की पत्नी के नाम से सतपुड़ा लीजिंग एन्ड फायनेंस नामक कम्पनी का संचालन किया जा रहा था। इसकी भी जांच की जा रही है। आखिरकार सरकारी सेवा में रहते हुए इस कम्पनी संचालन की जानकारी विभाग को दी गई थी या नहीं। इसमें पहले इनकी पत्नी डायरेक्टर थी अब ये खुद है। अभी जांच जारी है। जांच पूरी होने के बाद ही बाकी संपति का खुलासा हो पाएगा।

280 प्रतिशत संपत्ति की अर्जित

आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (EOW) के पुलिस अधीक्षक देवेंद्र सिंह राजपूत ने बताया कि दयाशंकर प्रजापति के खिलाफ शिकायत प्राप्त हुई थी। उनपर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाया गया जिसकी जांच की गई। जांच में पाया गया कि इनके वैधानिक स्रोत है उसकी तुलना में लगभग 280 प्रतिशत अधिक संपत्ति अर्जित की गई है। आरोप प्रमाणित पाए जाने पर उनके विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है साथ ही इनके और निवेशकों के बारे में पता लगाया जा रहा है। इसमें न्यायालय से भी सर्च वारंट लिया गया और कार्यवाही जारी है।

 

First published on: Aug 05, 2022 03:03 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें