Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

सिंहस्थ 2028 के लिए मुख्यमंत्री यादव ने बुलाई अहम बैठक, उज्जैन-इंदौर संभाग में आध्यात्मिक विकास करने का निर्देश

CM Mohan Yadav Simhastha-2028 Meeting: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने सिंहस्थ-2028 को लेकर मंत्रियों और अधिकारियों की एक बैठक बुलाई। इसमे उन्होंने उज्जैन-इंदौर संभाग में आध्यात्मिक विकास के काम को तेज करना का निर्देश दिया है।

Edited By : Pooja Mishra | Updated: Mar 5, 2024 19:15
Share :
CM Mohan Yadav Simhastha-2028 Meeting
सीएम मोहन यादव की सिंहस्थ-2028 को लेकर बैठक

CM Mohan Yadav Simhastha-2028 Meeting: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने मंगलवार को मंत्रालय में सिंहस्थ-2028 की प्रस्तावित कार्ययोजना को लेकर एक बैठक की। इस बैठक को संबोधित करते हुए सीएम मोहन यादव ने सिंहस्थ-2028 के लिए प्रदेश के खंडवा स्थित दादा धूनी वाले समेत नलखेड़ा, भादवामाता, पशुपतिनाथ मंदसौर, ओंकारेश्वर तक लोगों के लिए उज्जैन-इंदौर संभाग को धार्मिक-आध्यात्मिक सर्किट तौर पर विकसित करने के लिए काम करने को कहा है। बता दें कि इस बैठक में राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा, नगरीय विकास और आवास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, मुख्य सचिव वीरा राणा और पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री मोहन यादव का निर्देश

इस बैठक में मुख्यमंत्री मोहन यादव ने सिंहस्थ-2028 के लिए मेला क्षेत्र को विकसित करने के लिए मंत्रियों और अधिकारियों के साथ लंबी बैठक की। इस बैठक में सीएम यादव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि क्षिप्रा नदी के घाटों का जल्द से जल्द विस्तार किया जाए, ताकि बड़ी संख्या में श्रद्धालु इन घाटों पर स्नान कर सकें। इसके साथ ही सीएम यादव ने कहा कि सिंहस्थ-2028 में आने वाले लोगों की संख्या का अनुमान लगाकर उज्जैन के रास्तों पर मूलभूत सुविधाओं समेत गेस्ट हाउस विकसित किया जाए।

यह भी पढ़ें: महिला दिवस पर मध्य प्रदेश में होगा ‘इन्वेस्ट इन वुमन- एक्सीलेरेट प्रोग्रेस’ कार्यक्रम, जानें क्या है इवेंट?

सिंहस्थ महापर्व 2028 की तैयारी 

बता दें कि साल 2028 में 27 मार्च से लेकर 27 मई तक सिंहस्थ महापर्व चलेगा। वहीं 9 अप्रैल से 8 मई के बीच में 3 शाही स्नान और 3 शाही स्नान होंगे। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि सिंहस्थ महापर्व में लगभग 14 करोड़ श्रद्धालु आ सकते हैं। इसी लिए राज्य सरकार ने सिंहस्थ-2028 प्रारंभिक कार्ययोजना बनाई है। इसमें 19 विभागों से जुड़े 18,840 करोड़ के 523 कार्य प्रस्तावित हैं।

First published on: Mar 05, 2024 07:15 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें