Thursday, 25 April, 2024

---विज्ञापन---

ईडी जांच के बाद शुरू हुआ दिल्ली का असली शराब घोटाला, पॉलिसी बनाने या लागू होने के वक्त नहीं: केजरीवाल

Arvind Kejriwal: ईडी की हिरासत में गुरुवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की राउज एवेन्यू कोर्ट में पेशी हुई। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल कोर्ट के अंदर जज के समक्ष व्यक्तिगत तौर पर अपनी बात रखी।

Edited By : Amit Kasana | Updated: Mar 28, 2024 23:09
Share :
Arvind kejriwal
Arvind Kejriwal

Arvind Kejriwal: ईडी की हिरासत में गुरुवार को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने तथाकथित शराब घोटाले को लेकर बड़ा खुलासा किया। उन्होंने कोर्ट को बताया कि कैसे ईडी जांच के जरिए उनको फंसाया गया और आम आदमी पार्टी को खत्म करने की साजिश रची गई। कोर्ट से इजाजत लेकर अपना पक्ष रखते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि पालिसी बनाने या इसे लागू होने के वक्त नहीं, बल्कि ईडी की जांच शुरू होने के बाद दिल्ली का असली शराब घोटाला शुरू हुआ।

चंदा देने के कारण जमानत मिली

सीएम ने कहा कि ईडी जांच के पीछे दो मकसद थे। पहला, आम आदमी पार्टी को खत्म करना और दूसरा उगाही के जरिए भाजपा को पैसा दिलाना। सीएम ने कहा कि राघव मगुंटा ने 6 और सरथ रेडी ने 9 बयानों में मेरा नाम नहीं लिया। ये दोनों आखिरी बयान मेरे खिलाफ देते हैं और जमानत मिल गई। सरथ रेड्डी को मेरे खिलाफ बयान देने और गिरफ्तारी के बाद भाजपा को 55 करोड रुपए का चंदा देने के कारण जमानत मिली। तो क्या केवल चार स्टेटमेंट एक सिटिंग मुख्यमंत्री को गिरफ्तार करने के लिए पर्याप्त हैं?

एजेंसियां जांच पड़ताल कर चुकीं

सीएम केजरीवाल ने ईडी के अफसरों का धन्यवाद करते हुए कहा कि अफसरों ने अच्छे माहौल में मुझसे पूछताछ की है। सीएम ने न्यायाधीश से कहा कि यह केस पिछले डेढ-पौने दो साल से चल रहा है। 17 अगस्त 2022 को सीबीआई ने पहला केस दर्ज किया था और 22 अगस्त 2022 को ईडी की केस दर्ज की गई थी। मुझे गिरफ्तार किया गया है। अभी तक न तो किसी कोर्ट में मुझे दोषी करार दिया गया है, न मेरे उपर कोई मुकदमा चला है, न मेरे उपर कोई आरोप तय हुए हैं और न तो मेरे उपर कोई आरोप है। अभी तक इस केस में सीबीआई कोर्ट में 31 हजार पेज फाइल कर चुकी है और 294 गवाहों से जांच पड़ताल कर चुकी है। इसी तरह, ईडी लगभग 162 गवाहों से जांच पड़ताल कर चुकी है और 25 हजार पेज फाइल कर चुकी है।

तत्कालीन उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सेक्रेटरी

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट को बताया कि इन सारे गवाहों और सारे कागजों को मिलाकर मुझे क्यों गिरफ्तार किया गया है? मेरा नाम सीधे-सीधे चार स्टेटमेंट्स में आता है। पहला, सी. अरविंद के बयान में मेरा नाम आता है। सी. अरविंद तत्कालीन उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सेक्रेटरी थे। सी. अरविंद ने यह बयान दिया है कि एक दिन मेरे घर में, मेरी मौजूदगी में मनीष सिसोदिया ने उनको एक्साइज के कुछ दस्तावेज सौंपे। उनके बयान में सिर्फ इतना ही है।

First published on: Mar 28, 2024 11:09 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें