---विज्ञापन---

बिलासपुर: कोयला मंत्रालय भारत सरकार ने दी एसईसीएल की 63 खदानों को स्टार रेटिंग

बिलासपुर: वित्तीय वर्ष 2021-22 के प्रदर्शन के आधार पर कोयला मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी की गई कोयला एवं लिग्नाइट खदानों की स्टार रेटिंग सूची में एसईसीएल की 63 खदानों को स्थान मिला है। भूमिगत खदानों में बंगवार खदान ने सबसे ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग हासिल की है वहीं ओपनकास्ट श्रेणी में मेगा प्रोजेक्ट दीपका […]

Edited By : Gyanendra Sharma | Updated: Apr 27, 2023 14:25
Share :
SECL

बिलासपुर: वित्तीय वर्ष 2021-22 के प्रदर्शन के आधार पर कोयला मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी की गई कोयला एवं लिग्नाइट खदानों की स्टार रेटिंग सूची में एसईसीएल की 63 खदानों को स्थान मिला है। भूमिगत खदानों में बंगवार खदान ने सबसे ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग हासिल की है वहीं ओपनकास्ट श्रेणी में मेगा प्रोजेक्ट दीपका एवं गेवरा, सराइपाली और मानिकपुर खदान को 4 स्टार रेटिंग मिली है। ओपनकास्ट और भूमिगत खदानों को मिलाकर एसईसीएल की कुल 51 खदानों को 3 या उससे अधिक की स्टार रेटिंग मिली है।

कोयला मंत्रालय द्वारा प्रौद्योगिकी की मदद से हरित, सुरक्षित और टिकाऊ खनन प्रथाओं को बढ़ावा देने के लिए कोयला खदानों की स्टार रेटिंग की शुरुआत की गई है। कोयला नियंत्रक संगठन, कोयला मंत्रालय खनन कार्यों से जुड़े विभिन्न नियमों और विनियमों के पालन, मुख्य रूप से सुरक्षा, पर्यावरण, परियोजना प्रभावित परिवारों के पुनर्वास, श्रमिकों के कल्याण आदि से संबंधित बिन्दुओं पर खदानों के प्रदर्शन के आधार पर देश भर की कोयला एवं लिग्नाइट खदानों को रेटिंग प्रदान करता है।

एसईसीएल की खदानों द्वारा स्टार रेटिंग हासिल करने पर सीएमडी डॉ प्रेम सागर मिश्रा ने कहा कि एसईसीएल के लिए कोयला उत्पादन जितना महत्वपूर्ण है उतना ही महत्वपूर्ण कोयले की गुणवत्ता भी है। इसके साथ ही पर्यावरण, परियोजना प्रभावितों को जल्द से जल्द रोजगार, सुरक्षा मानकों का पालन, श्रमिक कल्याण जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर किए जा रहे हमारे प्रयासों का ही नतीजा है कि इतनी बड़ी संख्या में हमारी खदानों ने स्टार रेटिंग हासिल की है। हमारे सभी अधिकारी और कामगार साथी इसके लिए बधाई के पात्र हैं और मैं सभी को शुभकामनाएँ देता हूँ।

जारी सूची में जिन 63 खदानों को स्टार रेटिंग प्रदान की गई है उनमें 21 ओपनकास्ट खदान और 42 भूमिगत खदान शामिल हैं। ओपनकास्ट खदानों में जगन्नाथपुर, जामपाली, शारदा, कंचन, महान-2, धनपुरी और बिजारी खदानों को 3 स्टार रेटिंग मिली है। वहीं भूमिगत खदानों में खैरहा, एनसीपीएच आर-6, रानी अटारी, विंध्या, कपिलधारा, पाली, सूराकछार, बगदेवा, भटगाँव, कुरजा, रजगामार आदि खदानों ने 4 स्टार रेटिंग हासिल की है।

First published on: Apr 27, 2023 02:25 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें