Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

Chhattisgarh: युवक को अपने ही दिए हुए पैसे वापस मांगना पड़ा भारी, बदले में मिली मौत की सजा

धमतरी: छत्तीसगढ़ के धमतरी(Dhamtari) जिले में 2 सितंबर की सुबह सिहावा थाना क्षेत्र के छिपलीपारा गांव एक अज्ञात लाश मिलने के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। इस मामले में दो नाबालिग समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार मृतक के गला, सिर, मुंह में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा किसी ठोस […]

Edited By : Yashodhan Sharma | Updated: Sep 4, 2022 16:52
Share :
Dhamtari

धमतरी: छत्तीसगढ़ के धमतरी(Dhamtari) जिले में 2 सितंबर की सुबह सिहावा थाना क्षेत्र के छिपलीपारा गांव एक अज्ञात लाश मिलने के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। इस मामले में दो नाबालिग समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के अनुसार मृतक के गला, सिर, मुंह में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा किसी ठोस वस्तु से हमला करने से मौत हुई थी। पुलिस जांच में मृतक की पहचान ग्राम मोदे थाना नगरी निवासी 33 साल के ज्योति प्रकाश साहू रूप में हुई।

इस तरह टीम बनाकर की तफ्तीश 

उक्त प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक धमतरी प्रशांत ठाकुर के निर्देश पर नगरी एसडीओपी मयंक रणसिंग के नेतृत्व में थाना प्रभारी और स्टाफ का टीम बनाया गया। सभी टीमों को अलग – अलग दिशाओं में सीसीटीवी फुटेज एवं तकनीकी सहायता की मदद से अज्ञात आरोपी के बारे में जानकारी एकत्र करना शुरू किया टीम के द्वारा आसपास के सीसीटीवी फुटेज एवं संदिग्धों से पूछताछ किया गया।

पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला कि मृतक ज्योति प्रकाश साहू जो पेटी ठेकेदारी का काम करता है। ब्याज में पैसे देता था। मृतक ने ग्राम सिरसिदा वासी लोकेश कुमार टोंडरे को भी 12,50,000/- रुपये ब्याज में दिये थे। लेकिन जैसे ही 28 साल के आरोपी लोकेश कुमार टॉडरे निवासी ग्राम सिरसिया थाना सिहावा से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसका ग्राम सिहावा नगरी रोड में नेथ मोबाईल के नाम से मोबाईल का दुकान है और वह मृतक ज्योति प्रकाश साहू से आज से करीब 9-10 माह पूर्व मिला था।

पार्टनर्शिप तोड़ना पड़ा भारी

लोकेश टोंडरे अपनी दुकान को बढ़ाना चाहता था। उसको पैसे की जरूरत थी जिस पर लोकेश टोंडरे द्वारा ज्योति प्रकाश साहू पार्टनरशिप में दुकान चलाने की बात कहकर दस लाख  लिए और बिक्री में आधा – आधा हिस्सेदारी की बात की गई। फिर करीब ढाई माह बाद मृतक ज्योति प्रकाश ने लोकेश टॉडरे को 2,50,000/- रूपये ( ढाई लाख ) और दिए।

इस दौरान लोकेश टॉडरे को व्यापार में नुकसान होने से ज्योति प्रकाश ने पार्टनरशीप में नहीं रहने की बात कहते हुए अपना पैसे का वापस मांगा और पैसा वापस नहीं होने से दस प्रतिशत ब्याज देने के लिए लोकेश टोंडरे को बोला। इस पर लोकेश टोंडरे ने मृतक ज्योति प्रकाश से हर महीने एक लाख रुपये देने की बात कही और एक लाख में से 50,000/- रू मूलधन में कटौती करने और 50,000/- रुपये को ब्याज के रूप में रखने को कहा। लोकेश टोंडरे मृतक ज्योति प्रकाश को हर माह एक लाख रुपये 06माह तक दिया।

आरोपी मानसिक रूप से रहने लगा परेशान

मृतक ज्योति प्रकाश उक्त पैसे को अपने दिये गये 12.50,000/- रुपये का पैसा का ब्याज समझता था और मृतक ज्योति प्रकाश साहू अपना पूरा पैसा लोकेश टोंडरे से मांगता था। इस पर लोकश टोंडरे मानसिक रूप से काफी परेशान रहने लगा और मृतक ज्योति प्रकाश को रास्ते से हटाने की बात सोचने लगा।

रिश्तेदार को दी हत्या की सुपारी

आरोपी ने अपने पारिवारिक रिश्तेदार मुंगेली निवासी विधि संघर्षरत बालक को सारी बात बताई और बोला कि ज्योति प्रकाश साहू को किसी तरह रास्ते से हटाने के लिए दो लाख रुपये दूंगा बोला। इतने में विधि संघर्षरत बालक बोला आपका काम हो जाएगा।

ऐसे बनाई हत्या की योजना

फिर घटना के करीब आठ दिन पहले विधि विरुद्ध बालक मुंगेली से ग्राम शिरसिदा लोकेश के घर आया और ज्योति प्रकाश साहू के हत्या करने की प्लान बनाया और विधि संघर्षरत बालक ने अपने परिचित के ग्राम बोधापारा थाना लालपुर जिला मुंगेली निवासी अमर सिंग को फोन कर काम के बारे में बताया जिस पर अमर सिंह काम हो जायेगा बोलने पर उसके सिहावा आने के लिए अमरसिंग को दो हजार रुपये फोन पे के माध्यम से लोकेश टोंडरे ने ट्रांस्फर किया फिर 1 सितंबर को अमर सिंह सिहावा आ रहा हूं। बोलकर अपने अन्य साथी ग्राम सूखाताल थाना लालपुर जिला मुंगेली निवासी प्रदीप कुमार को साथ लेकर बस से शाम करीब 6.00 बजे सिहावा आया।

आरोपी  लोकेश टोंडरे मृतक ज्योति प्रकाश साहू को लेकर जैसे ही सिहावा से नगरी रोड शीतला मंदिर के पास पहाड़ी के नीचे पहुंचे तब पूर्व सुनियोजित साजिश के तहत चारों ने मिलकर पूर्व से रखे क्रिकेट के बैट और फावड़ा से मृतक के सिर चेहरा में गंभीर चोट पहुंचा कर हत्या कर दी।

वारदात के बाद आरोपियों ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल किया। घटना में प्रयुक्त क्रिकेट बेट, फावड़ा एवं मृतक के टूटे हुए मोबाईल जप्त किया गया है। आरोपीयों को न्यायिक रिमांड पर भेजा जाता है ।

चार आरोपी गिरफ्तार

आरोपीगण-: 01. लोकेश कुमार टोंडरे पिता कैलाश टोंडरे उम्र 29 वर्ष साकिन सिरसिदा थाना सिहावा जिला धमतरी (छ० ग०) ,

02. अमरसिंग जांगड़े पिता हेमंतदास जांगड़ें उम्र 48 वर्ष साकिन बोधापारा थाना लाल पुर जिला मुंगेली

03. प्रदीप कुमार पाटले पिता प्रेमनारायण पाटले उम्र 40 वर्ष साकिन सुखाताल थाना लाल पुर जिला मुंगेली , तथा
04. विधि से संघर्षरत बालक ।

सम्पूर्ण कार्यवाही में निरीक्षक लेखराम ठाकुर , उप निरीक्षक रमेश साहू , सउनि. राधेश्याम बंजारे , सउनि पी०एन०ध्रुव, व प्रआर० लक्ष्मीनाथ निर्मलकर , दीनु माकण्डे , आर०सुरेन्द्र डडसेना , भुपेन्द्र पदमशाली हरिशंकर सिन्हा , योगेश सोम , रविकांत चेलक , संजय सोम का विशेष योगदान रहा।

First published on: Sep 04, 2022 04:52 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें