Friday, 23 February, 2024

---विज्ञापन---

40 सिर वाले रावण ने जब्त किया भगवान राम का ‘धनुष और बाण’: उद्धव ठाकरे

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रतिद्वंद्वी शिंदे गुट पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि 40 सिर वाले रावण ने भगवान श्री राम के धनुष को जब्त कर लिया। चुनाव आयोग द्वारा आगामी अंधेरी पूर्व विधानसभा उपचुनावों में शिवसेना के ‘धनुष और तीर’ के चुनाव चिन्ह को पार्टी के दोनों गुटों […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Oct 10, 2022 12:26
Share :

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रतिद्वंद्वी शिंदे गुट पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि 40 सिर वाले रावण ने भगवान श्री राम के धनुष को जब्त कर लिया। चुनाव आयोग द्वारा आगामी अंधेरी पूर्व विधानसभा उपचुनावों में शिवसेना के ‘धनुष और तीर’ के चुनाव चिन्ह को पार्टी के दोनों गुटों को इस्तेमाल करने से रोकने के एक दिन बाद उद्धव का ये बयान आया है।

अभी पढ़ें – ‘पहले शिवसेना को कमजोर किया, अब बारामती में दिवाली मनाई जा रही’, NCP पर BJP का आरोप

रविवार को फेसबुक लाइव में ठाकरे ने कहा, “मुझे चुनाव आयोग से इस फैसले की उम्मीद नहीं थी। मैं न्यायपालिका में विश्वास करता हूं। हमें न्याय मिलेगा। 40 सिर वाले रावण ने भगवान श्री राम के धनुष को फ्रीज कर दिया। मैं दुखी हूं लेकिन गुस्से में हूं क्योंकि आपने (शिंदे गुट) अपनी मां के सीने में छुरा घोंपा। हिम्मत है तो बालासाहेब का नाम मत लेना।”

महाराष्ट्र के हित में किया गया था शिवसेना का गठन: उद्धव

शिवसेना प्रमुख ने कहा, “उद्धव ठाकरे कौन हैं? लोग मुझे जानते हैं क्योंकि मेरा नाम उद्धव बालासाहेब ठाकरे है।” उन्होंने कहा कि शिवसेना का गठन महाराष्ट्र के हित में मराठी लोगों के कल्याण के लिए किया गया था।

शिवसेना के गठन की कहानी शेयर करते हुए ठाकरे ने कहा, “शिवाजी पार्क में हमारा वन बीएचके का फ्लैट था। मेरे दादाजी ने बालासाहेब से पूछा कि क्या वे एक संगठन बनाएंगे क्योंकि इतने सारे लोग अपनी समस्याओं को लेकर आ रहे थे। बालासाहेब ने कहा कि विचार है। बालासाहेब को प्रबोधनकर ने संगठन का नाम शिवसेना रखने को कहा था। इस तरह शिवसेना की शुरुआत हुई।”

भाजपा का हित पूरा होगा तब शिंदे को वे हटा देंगे: उद्धव ठाकरे

ठाकरे ने कहा कि भाजपा अपने हित में शिंदे गुट का इस्तेमाल कर रही है और जब उसका हित पूरा हो जाएगा तो वह उन्हें हटा देगी। उन्होंने कहा कि शिवसेना की एकता को तोड़कर आपको क्या मिला? शिवसेना नाम से आपका क्या संबंध है? शिंदे गुट को भी समझ में नहीं आता कि भाजपा कैसे उनका उपयोग कर रहा है। जब आपका उपयोग समाप्त हो जाएगा, तो आप भी शराब की खाली बोतल की तरह फेंक दिए जाएंगे।

अभी पढ़ें ओवैसी के बयान पर अनिल विज ने दी प्रतिक्रिया, बोले- अच्छा है कि मुस्लिम आबादी घट रही है, इसे और गिरना चाहिए

उद्धव ठाकरे ने कहा, “चुनाव आयोग के शनिवार के आदेश के बाद हमने तीन चुनाव चिन्ह त्रिशूल, उगता सूरज और मशाल दिया है। हमने पार्टी के नए नाम के लिए तीन नाम शिवसेना बालासाहेब ठाकरे, शिवसेना बालासाहेब प्रबोधनकर ठाकरे, शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे भी दिए हैं।”

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Oct 09, 2022 09:11 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें