Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

Budget 2023: केंद्रीय कर्मचारियों को बजट से तीन बड़ी आस, जानें कितनी बढ़ जाएगी सैलरी 

Budget 2023: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी। यह बजट मोदी सरकार के दूसरे कार्य का अंतिम पूर्ण बजट होगा। इस बजट से खास से लेकर आम लोगों को ढेरों उम्मीदें हैं। नौकरी पेशा वर्ग को जहां इनकम टैक्स में रिवेट की उम्मीद है तो देश के अन्नदाता को […]

Edited By : Pankaj Mishra | Updated: Jan 30, 2023 11:44
Share :
Budget 2023

Budget 2023: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी। यह बजट मोदी सरकार के दूसरे कार्य का अंतिम पूर्ण बजट होगा। इस बजट से खास से लेकर आम लोगों को ढेरों उम्मीदें हैं। नौकरी पेशा वर्ग को जहां इनकम टैक्स में रिवेट की उम्मीद है तो देश के अन्नदाता को भी कृषि क्षेत्र में बड़े सुधार की आस है। वहीं केंद्रीय कर्मचारियों को भी इस बजट से कई उम्मीदें हैं। इस साल के बजट से केंद्रीय कर्मचारियों की तीन मुख्य मांगे हैं। इसमें डीए में बढ़ोतरी, बकाया डीए का भुगतान और फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी शामिल है।

केंद्र सरकार अगर बजट (Budget 2023) में केंद्रीय कर्मचारियों की तीन मांगों को मान लेती है, तो उनकी सैलरी में बड़ी बढ़ोतरी होने के आसर हैं। कर्मचारियों को आस है सरकार उनके इन तीन बातों को बजट (Budget 2023) में शामिल करेगी। फिलहाल यह तो एक फरवरी को ही पता चल पाएगा कि केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनर्स को इस बजट से क्या मिलता?

यह भी पढ़ें- Budget 2023: आजादी के बाद से लेकर अब तक… जानें कितने बदलावों से गुजरा देश का केंद्रीय बजट

18 महीने के बकाया DA एरियर का हो भुगतान

केंद्रीय कर्मचारियों की सबसे प्रमुख मांग (Budget 2023) 18 महीने के बकाये डीए एरियर (DA Arrears) का मुद्दा अब भी अटका हुआ है। उम्मीद की जा रही है कि सरकार बजट में इसको लेकर कोई रास्ता निकाल कर इसे सुलझा सकती है। दरअसल कोरोना काल जनवरी 2020 से जून 2021 तक का पिछले 18 महीनों का DA अभी लंबित है। कर्मचारी संगठनों की मांग को देखते हुए सरकार इस सिलसिले में कोई बीच का रास्ता अपना सकती है और एकमुश्त रकम का ऐलान कर सकती है। अगर ऐसा होता है तो कर्मचारियों के खाते में 2.18 लाख रुपये तक आ सकते हैं।

DA जल्द हो बढ़ोतरी का ऐलान

केंद्रीय कर्मचारी महंगाई तो देखते हुए जल्द से जल्द डीए में बढ़ोतरी (DA Hike) के ऐलान की मांग (Budget 2023) कर रहे हैं। दरअसल सरकार हर साल जनवरी और जुलाई में केन्द्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का ऐलान करती है। ऐसे में कर्मचारियों कि मांग है कि केंद्र सरकार फरवरी में उनके डीए में बढ़ोतरी का ऐलान कर दे जिससे होली में सैलरी बढ़कर उनके खाते में आ जाए। दरअसल केंद्रीय कर्मचारियों (7th Pay Commission) के महंगाई भत्ते में हर 6 महीने पर समीक्षा होती है।

यह भी पढ़ें- Budget 2023: वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, सुकन्या समृद्धि योजना को इस बार मिल सकता है Boom

AICPI के आंकड़ों के आधार पर साल में दो बार महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की जाती है। एक बढ़ोतरी जनवरी तो दूसरी जुलाई में होती है। हर साल की तरह साल 2023 में भी केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा होगा। अगर महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो केंद्रीय कर्मचारियों का महंगा मौजूदा 38 फीसदी से बढ़कर 41 प्रतिशत हो जाएगा। सितंबर 2022 में डीए में चार फीसदी की बढ़ोतरी के बाद अब केंद्रीय कर्मचारियों के नए साल में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का इतजार है।

फिटमेंट फैक्टर में इजाफा

इसके साथ ही केंद्रीय कर्मचारी सरकार से लंबे समय से फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) में रिविजन का मांग कर रहे हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि 2024 के आम चुनाव से पहले मोदी सरकार का ये आखिरी पूर्णकालिक बजट है ऐसे में सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ी राहत देते हुए फिटमेंट फैक्टर में लगातार बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं। लिहाजा सरकार केंद्रीय बजट के बाद फिटमेंट फैक्टर में रिविजन यानी बढ़ाने पर बड़ा ऐलान कर सकती है। फिटमेंट फैक्टर में अगर बढ़ोतरी होती है तो कर्मचारियों की सैलरी में बड़ा इजाफा देखने को मिल सकता है।

यह भी पढ़ें- Budget 2023: बजट में क्या नया था? प्रत्येक श्रेणी में निर्मला सीतारमण का पूरा भाषण जानने के लिए ऐसे ऑनलाइन देखें डॉक्यूमेंट

केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल 2.57 फीसदी के ह‍िसाब से फिटमेंट फैक्टर द‍िया जा रहा है। इसे बढ़ाकर 3.68 गुना क‍िए जाने की मांग की जा रही है। फिटमेंट फैक्टर के 2.57 से बढ़ाकर 3.68 करने पर मिन‍िमम बेस‍िक सैलरी 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगी। अगर केंद्र सरकार इस मांग को मान लेती है तो केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी में जबरदस्त बढ़ोतरी होगी।

गौरतलब है कि आखिरी बार साल 2016 में फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाया गया था। इसी साल 7वां वेतन आयोग भी लागू हुआ था। उस समय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 6000 रुपये से सीधे 18,000 रुपये हो गई थी। जबकि उच्चतम स्तर को 90,000 रुपये से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये कर दिया गया। अब सरकार इस साल केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में फिर बढ़ोतरी कर सकती है।

First published on: Jan 30, 2023 11:02 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें