Thursday, December 8, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

ब्रिटेन में हिंदुओं के खिलाफ हो रही हिंसा के विरोध में उतरी VHP, यूके दूतावास के बाहर किया प्रदर्शन

हिंदू संगठन विश्व हिंदू परिषद (VHP) के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को नई दिल्ली में यूके दूतावास के बाहर लीसेस्टर, बर्मिंघम और स्मेथविक में भारतीयों के खिलाफ हो रहे हमलों के विरोध में प्रदर्शन किया।

नई दिल्ली: हिंदू संगठन विश्व हिंदू परिषद (VHP) के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को नई दिल्ली में यूके दूतावास के बाहर लीसेस्टर, बर्मिंघम और स्मेथविक में भारतीयों के खिलाफ हो रहे हमलों के विरोध में प्रदर्शन किया। संगठन ने यूके सरकार से इस मामले को तुरंत देखने और इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी आग्रह किया। विहिप नेताओं ने इस दौरान ब्रिटेन के दूतावास में काम कर रहे अधिकारियों से मिलने की भी मांग उठाई।

अभी पढ़ें – Telangana: टोल प्लाजा पर टीआरएस नेताओं की कर्मचारियों से फाइट, तोड़फोड़ का वीडियो वायर

विहिप प्रमुख आलोक कुमार ने विरोध के दौरान कहा, “ब्रिटेन में एक सांसद ने सरकार को लिखा कि कोई हिंदू समारोह नहीं होगा। उन्होंने हमारी बात नहीं सुनी। विश्व शांति के लिए, ब्रिटेन को इस्लामिक आतंकवादियों की ओर झुकाव बंद करना चाहिए।” इससे पहले बुधवार को, विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने लीसेस्टर और बर्मिंघम में हिंदुओं के खिलाफ जारी हिंसा के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने की आवश्यकता पर जोर दिया था।

विहिप ने ब्रिटिश प्रधान मंत्री लिज़ ट्रस को लिखे पत्र में कहा था कि वे लीसेस्टर में चल रही हिंसा से चिंतित हैं जिसमें बड़ी संख्या में हिंदुओं को निशाना बनाया गया है। इस पत्र में लिखा गया कि “विश्व हिंदू परिषद (विश्व हिंदू परिषद) लीसेस्टर में चल रही हिंसा पर गहराई से चिंतित जिसमें बड़ी संख्या में लीसेस्टर के हिंदुओं, उनके पूजा स्थलों और उनके सांस्कृतिक और धार्मिक प्रतीकों को इस्लामिक चरमपंथियों द्वारा लक्षित और क्षतिग्रस्त किया गया है।”

पत्र में कहा गया था, “ये हिंसक, घृणित और चरमपंथी कृत्य पूरी तरह से एकतरफा हैं। लेकिन अफवाह फैलाई जा रही है कि हिंसा की शुरुआत क्षेत्र में निवास कर रहे हिंदुओं ने की। उन्होंने इसे भड़काया और वही इसके लिए जिम्मेदार हैं।”

समूह ने कहा था, “हिंसा में कई हिंदुओं के  घर और संपत्ति क्षतिग्रस्त हो गई है। प्रभावित इलाके में रहने वाले कई हिंदुओं ने अपने बच्चों को कई दिनों से स्कूल नहीं भेजा है।”

अभी पढ़ें – अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 10 राज्यों में NIA की छापेमारी, 100 से ज्यादा PFI वर्कर्स अरेस्ट

बता दें कि भारत द्वारा 28 अगस्त को पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप टी20 मैच जीतने के बाद हिंसा का सिलसिला शुरू हो गया था। पुलिस के बयान के अनुसार, लीसेस्टरशायर में युवकों के समूहों के बीच झड़प हो गई। इस मामले में अब तक कम से कम 15 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग ने सोमवार को लीसेस्टर में भारतीय समुदाय के खिलाफ हुई हिंसा की निंदा की और हमलों में शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की। उच्चायोग ने एक बयान जारी कर कहा था कि उसने इस मामले को ब्रिटेन के अधिकारियों के समक्ष उठाया है। बयान में कहा गया, “हम लीसेस्टर में भारतीय समुदाय के खिलाफ हुई हिंसा और हिंदू धर्म के प्रतीकों और परिसरों की तोड़फोड़ की कड़ी निंदा करते हैं। हमने ब्रिटेन के अधिकारियों के साथ इस मामले को दृढ़ता से उठाया है और इन हमलों में शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की है। हम अधिकारियों से प्रभावित लोगों को सुरक्षा प्रदान करने की मांग करते हैं।”

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -