Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

Stampede Tragedy: चन्द्रबाबू नायडू की रैली में फिर से भगदड़, 3 की मौत

नई दिल्ली: टीडीपी नेता व आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चन्द्रबाबू नायडू के कार्यक्रम में रविवार को एक बार फिर भगदड़ (Stampede Tragedy) मच गई। गुंटूर के एसपी आरिफ हफीज ने बताया कि इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई। 13 लोग घायल हुए हैं। जानकारी के अनुसार, यह हादसा उस समय हुआए […]

Edited By : Pankaj Mishra | Updated: Jan 2, 2023 15:36
Share :
Stampede Tragedy

नई दिल्ली: टीडीपी नेता व आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चन्द्रबाबू नायडू के कार्यक्रम में रविवार को एक बार फिर भगदड़ (Stampede Tragedy) मच गई। गुंटूर के एसपी आरिफ हफीज ने बताया कि इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई। 13 लोग घायल हुए हैं। जानकारी के अनुसार, यह हादसा उस समय हुआए जब गुंटूर के विकास नगर में फ्री राशन किट डिस्ट्रीब्यूट कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग आए थे। नायडू निकलने के कुछ देर बाद ही भगदड़ मच गई। सभी घायलों का स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बीते पांच दिनों में आंध्र में ये दूसरी घटना है। इससे पहले 28 दिसंबर को नेल्लोर में चंद्रबाबू के कार्यक्रम में भगदड़ मची थी जिसमें एक महिला समेत 8 लोगों की मौत हुई थी। वहीं 10 लोग घायल हो गए थे।

सीएम रेड्डी ने साधा निशाना

हादसे से पहले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि मेरा जीवन गरीबों के लिए समर्पित है और मैं यहां उनके उत्थान के लिए हूं। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम को प्रशासन के बारे में कोई जानकारी नहीं है। वहीं घटना के बाद उन्होंने हादसे पर दुख जताया। उन्होंने मृतकों के परिजनों को 5.5 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की।

मृतकों के लिए मुआवजे का ऐलान

हादसे में गुंटूर की रहने वाली 50 साल की गोपीदेसी रमादेवी 35 साल की आशिया और एक 40 साल की अज्ञात महिला की मौत हो गई। इस घटना में गुंटूर की 60 साल की बथुला लक्ष्मम्मा गंभीर रूप से घायल हो गईं। वहीं मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने भी हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने मृतक के परिजनों को 2.2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। साथ ही घायलों को बेहतर मेडिकल सुविधा देने की घोषणा की है।

नेल्लोर के रोड शो में भी मची थी भगदड़

आंध्र के नेल्लोर में 28 दिसंबर यानी पिछले बुधवार को रोड शो के दौरान नायडू की एक झलक पाने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी थी। जिसके कारण वहां मौजूद सीमेंट की रेलिंग टूट गई और कई लोग नहर में गिर गए। घटना के बाद वहां भगदड़ मच गई।

हादसे के बाद टीडीपी के राष्ट्रीय महासचिव और नायडू के बेटे नारा लोकेश ने एक ट्वीट में लिखा.. ‘टीडीपी कार्यकर्ताओं की मौत पार्टी के लिए एक बड़ी क्षति है। उनके परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। घायलों के बेहतर इलाज की व्यवस्था की गई है। मैं उनके ठीक होने की प्रार्थना करता हूं। तेलुगु देशम पार्टी मृतकों के परिवारों की हर तरह से सहायता करेगी। उन्हें 10.10 लाख की आर्थिक सहायता और उनके बच्चों की फ्री शिक्षा दी जाएगी।’

नायडू के बेटे जल्द शुरू करेंगे पदयात्रा

पिछले कुछ दिनों से नायडू राज्य में वाईएसआरसीपी सरकार का विरोध करने के लिए एक अभियान चला रहे हैं। जनवरी में नायडू के बेटे नारा लोकेश राज्य के युवाओं को अपने साथ जोड़ने के लिए 4000 किलोमीटर की पदयात्रा शुरू करेंगे।

First published on: Jan 02, 2023 08:33 AM
संबंधित खबरें