Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

गोपाल राय बोले- पगड़ी देश की सुरक्षा की गारंटी, पहनने वाले IPS को खलिस्तानी बोलने पर भाजपा देश से माफी मांगे

AAP Leader Gopal Rai On 'Khalistani' jibe in WB: पश्चिम बंगाल में एक सिख आईपीएस अफसर को बीजेपी द्वारा खालिस्तानी कहने की आम आदमी पार्टी ने कड़ी निंदा की है। पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने इस मुद्दे पर कहा कि पगड़ी पहनने वाले आइपीएस को खलिस्तानी बोलने पर भाजपा को देश से माफी मांगनी चाहिए। शहीदों की फ़ेहरिस्त में पंजाबी सबसे ऊपर हैं लेकिन भाजपा उन्हें देशद्रोही कह रही है।

Edited By : Swati Pandey | Updated: Feb 21, 2024 16:32
Share :
Gopal Rai
Gopal Rai

AAP Leader Gopal Rai On ‘Khalistani’ jibe in WB: आम आदमी पार्टी ने भाजपा द्वारा पश्चिम बंगाल में तैनात एक सिख आईपीएस अफसर को खालिस्तानी कहकर अपमानित करने की कड़ी निंदा की है। “आप” के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि पगड़ी देश की सुरक्षा की गारंटी है। पगड़ी पहनने वाले आइपीएस को खलिस्तानी बोलने पर भाजपा को देश से माफी मांगनी चाहिए। यह इस बात को भी दिखाता है कि लोगों के रंग, धर्म और जाति को लेकर बीजेपी नेताओं में कितनी नफरत भरी पड़ी है।

गोपाल राय ने आगे कहा कि शहीद ए आज़म भगत सिंह सरदार परिवार में पैदा हुए और करतार सिंह सराभा ने जवानी में शहादत दी। शहीदों की फ़ेहरिस्त में पंजाबी सबसे ऊपर हैं लेकिन भाजपा उन्हें देशद्रोही कह रही है। भाजपा नेताओं ने आईपीएस अधिकारी को खालिस्तानी इसलिए बोला, क्योंकि वो एक सिख परिवार में पैदा हुए और पगड़ी बांधते हैं।

  • पगड़ी देश की सुरक्षा की गारंटी, पगड़ी पहनने वाले आइपीएस को खलिस्तानी बोलने पर भाजपा देश से माफी मांगे- आप
  • पश्चिम बंगाल में सिख आईपीएस अधिकारी का अपमान इस बात को दर्शाता है कि भाजपा नेताओं में लोगों के रंग, धर्म, जाति को लेकर कितनी नफ़रत भरी पड़ी है- गोपाल राय

‘बीजेपी नेताओं में नफरत की विचारधारा कूट-कूट कर भर गई है’

दिल्ली विधानसभा में प्रेस वार्ता कर आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने कहा कि बंगाल में ड्यूटी पर तैनात आईपीएस अधिकारी को बीजेपी के नेताओं ने जिस तरह से खालिस्तानी बोलकर अपमानित किया है। आज उससे पूरे देश में, जो लोग इस देश की एकता में विश्वास करते हैं, जो इस बात को मानते हैं कि इस देश के हर नागरिक को चाहे वो किसी भी धर्म, जाति क्षेत्र, भाषा या राज्य का हो उसे किसी भी आधार पर इस तरह से अपमानित नहीं किया जा सकता है, आज सभी को इससे बहुत ठेस पहुंची है। बीजेपी के नेताओं ने सार्वजनिक तौर पर उस आईपीएस अधिकारी को केवल इसलिए खालिस्तानी बोला क्योंकि वो एक सिख परिवार में पैदा हुए और वो सर पर पगड़ी बांधते हैं। ये इस बात को दर्शाता है कि बीजेपी के नेताओं में ऊपर से लेकर नीचे तक किस तरह की नफरत की विचारधारा कूट-कूट कर भर गई है।

  • शहीद ए आज़म भगत सिंह सरदार परिवार में पैदा हुए, करतार सिंह सराभा ने जवानी में शहादत दी, शहीदों की फ़ेहरिस्त में पंजाबी सर्वोच्च पर, लेकिन भाजपा उन्हें देशद्रोही कह रही है- गोपाल राय
  • भाजपा के नेता सबको देशद्रोही, आतंकवादी, खालिस्तानी, नक्सलवादी का सर्टिफिकेट बांटते घूम रहे हैं – गोपाल राय
  • अगर आज भाजपा के इस नफरती अभियान को नहीं रोका गया तो ये लोग देश में समाज को तोड़ने की तरफ बढ़ेंगे- गोपाल राय

आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने इस मुद्दे पर कहा कि देश में सिख धर्म को मानने वालों का लंबा इतिहास है। देश के आजाद होने की लड़ाई में लाखों लोगों ने कुर्बानी दी लेकिन शहीद ए आज़म केवल भगत सिंह के नाम के साथ लगा है, जो एक सरदार परिवार में पैदा हुए। करतार सिंह सराभा भी एक सरदार परिवार में पैदा हुए थे, जिन्होंने अपनी जवानी को इस देश के लिए कुर्बान कर दिया। इस देश में शहीदों की फ़ेहरिस्त में पंजाबी सबसे ऊपर हैं।

‘आम आदमी पार्टी कड़े शब्दों में बीजेपी के नेताओं के इस व्यवहार की निंदा करती है’

अपनी विरासत और स्वतंत्रता संग्राम के बलिदानों को एक तरफ करके आज भाजपा के नेताओं को अधिकार मिल गया है कि वह देश में आज सबको सर्टिफिकेट बांटती घूम रही है। उनके लिए कोई भी देशद्रोही, आतंकवादी, खालिस्तानी या नक्सलवादी हो जाता है। बीजेपी के नेता अब संविधान की सभी सीमाओं को पार करने लगे हैं। वो ना तो भारत के संविधान और ना ही हमारी संस्कृति, परंपरा और भारत के इतिहास को मानने को तैयार हैं। अब ये वक्त आ गया है कि इस नफरत के अभियान को रोका जाए नहीं तो ये भारतीय समाज को विभाजित करने की ओर बढ़ेंगे। आम आदमी पार्टी कड़े शब्दों में बीजेपी के नेताओं के इस व्यवहार की निंदा करती है और ये मांग करती है कि बीजेपी के नेता इस घटना के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगे।

First published on: Feb 21, 2024 04:26 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें