Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

TMC सांसद महुआ मोइत्रा की बढ़ीं मुश्किलें; लोकपाल के निर्देश पर अब CBI खोलेगी मामले की परतें

Mahua Moitra Case : लोकपाल की तरफ से जांच के निर्देश के बाद सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि अभी तक सिर्फ आरोपों की पुष्टि की जा रही है और अगर कुछ मिला तो एफआईआर दर्ज करके जांच आगे बढ़ाई जाएगी।

Edited By : Balraj Singh | Updated: Nov 25, 2023 20:59
Share :

नई दिल्ली: तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद महुआ मोइत्रा की कठिनाइयां कम होती नजर नहीं आ रही। अब उनके खिलाफ लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच सेंट्रल इन्वेस्टीगेशन ब्यूरो (CBI) करेगी। शनिवार को इस बारे में एजेंसी के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एजेंसी को लोकसभा सदस्य के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक लोकपाल की तरफ से जांच के निर्देश हुए हैं और इनके बाद प्रारंभिक जांच दर्ज कर ली गई है।

राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौते का आरोप

मामला पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के आरोप का है। इस मामले में भारती जनता पार्टी के सांसद निशिकांत दुबे ने तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ कार्रवाई की आस में लोकपाल को शिकायत दी है। आरोप है कि महुआ ने अडानी समूह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए व्यवसायी दर्शन हीरानंदानी के इशारे पर उपहार के बदले लोकसभा में सवाल किया था।

इस मामले में आरोप लगा रहे भाजपा सांसद निशिकांत दुबे का कहना है कि मोइत्रा पैसों के लालच में राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया है। हालांकि इसकी जांच लोकसभा की आचार समिति कर रही है। महुआ के खिलाफ कार्रवाई तब शुरू हुई जब दुबे और महुआ के पूर्व साझेदार वकील जय अनंत देहाद्राई ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से शिकायत की थी कि उन पर रिश्वत और उपहारों के बदले व्यवसायी दर्शन हीरानंदानी के इशारे पर अडानी समूह को निशाना बनाने के लिए सवाल पूछने का आरोप लगाया गया था।

यह भी पढ़ें: ‘राहुल गांधी सिर्फ कांग्रेस के लिए नहीं, राष्ट्रीय मुसीबत बन गए हैं’; CM शिवराज चौहान ने ऐसा क्यों कहा?

अभी आरोपों की सिर्फ पुष्टि हो रही

इसी बीच दुबे ने लोकपाल का रुख कर लिया। पता चला है कि लोकपाल ने इस मामले की जांच के लिए CBI को निर्देशित कर दिया है और जांच एजेंसी ने इस निर्देश की तामील शुरू कर दी है। शनिवार को इस बारे में सीबीआई के अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि एजेंसी ने लोकपाल के निर्देश पर लोकसभा सदस्य के खिलाफ प्रारंभिक जांच दर्ज कर ली है। अभी तय किया जा रहा है कि क्या आरोप जांच के लिए पूरी तरह से योग्य हैं। अगर शुरुआती जांच में ऐसा कुछ मिलता है तो सीबीआई इसे एफआईआर में तब्दील कर सकती है।

यह भी पढ़ें: चवरली में चुनाव बहिष्कार के साथ 5 बजे तक 68.24 फीसदी मतदान, अब 3 दिसंबर का इंतजार

उधर, इससे पहले मोइत्रा ने कहा है कि उन्होंने कोई भी गलत काम नहीं किया। उन्हें जान-बूझकर निशाना बनाया जा रहा है। महुआ ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया था, ‘देखते हुए टॉम डुओ की सरकार मेरी यात्रा विवरण प्राप्त करने के लिए मेरे सभी ट्रैवल एजेंटों को बुला रही है। साहिब और मोटा भाई के लिए गुजरात के दिनों से महिलाओं का पीछा करने का जुनून। नरेंद्र मोदी-जी, अगला समय आने पर मैं आपसे अपनी यात्राओं के लिए अडानी विमान का उपयोग करने के लिए कहूंगा, ठीक है?’

First published on: Nov 25, 2023 08:12 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें