Saturday, December 3, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

जानें भारत में क्यों नहीं होंगे श्रीलंका और पाकिस्तान जैसे आर्थिक हालत

पूर्व गर्वनर ने कहा कि हमारे पास पर्याप्त विदेशी मुद्रा भंडार है। रिजर्व बैंक ने रिजर्व बढ़ाने में अच्छा काम किया है। हमें श्रीलंका और पाकिस्तान जैसी समस्या नहीं है। हमारे विदेशी कर्ज भी कम हैं।

नई दिल्ली: आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने शनिवार को कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ाने में अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा कि देश को श्रीलंका और पाकिस्तान जैसी आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

 

पूर्व गर्वनर ने कहा कि हमारे पास पर्याप्त विदेशी मुद्रा भंडार है। रिजर्व बैंक ने रिजर्व बढ़ाने में अच्छा काम किया है। हमें श्रीलंका और पाकिस्तान जैसी समस्या नहीं है। हमारे विदेशी कर्ज भी कम हैं।

विदेशी मुद्रा में गिरावट

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार आरबीआई के ताजा आंकड़ों के मुताबिक 22 जुलाई को समाप्त सप्ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 571.56 अरब डॉलर रहा। 22 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में 1.152 अरब डॉलर की गिरावट दर्ज की गई।

अन्य घटक में लाभ

उन्होंने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक के साप्ताहिक सांख्यिकीय पूरक के अनुसार विदेशी मुद्रा आस्तियों में गिरावट के कारण 22 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में गिरावट आई। जबकि विदेशी मुद्रा भंडार के अन्य सभी घटकों ने सप्ताह के दौरान लाभ दर्ज किया। भारत की विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां, जो विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक हैं।

6.656 अरब डॉलर की गिरावट

22 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान 1.426 अरब डॉलर गिरकर 510.136 अरब डॉलर हो गई। 15 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा संपत्ति में 6.527 अरब डॉलर और 6.656 अरब डॉलर की गिरावट आई थी।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -