Friday, September 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Bihar: जद (यू) और राजद में विलय पर नीतीश कुमार ने लगाया विराम

आरसीपी सिंह के दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, "अरे छोडिये (जाने दो)।"

बिहार: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को अपने पूर्व पार्टी सहयोगी आरसीपी सिंह की भविष्यवाणी को खारिज कर दिया। आरसीपी सिंह ने आरोप लगाया था कि निकट भविष्य में जद (यू) का राजद में विलय होगा। आरसीपी सिंह के दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, “अरे छोडिये (जाने दो)।”

इससे पहले आज आरसीपी सिंह ने बार-बार गठबंधन बदलने के लिए नीतीश कुमार की खिंचाई की थी और दावा किया था कि जनता दल (यूनाइटेड) का निकट भविष्य में लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनता दल में विलय हो जाएगा। उन्होंने कहा था कि दोनों दलों के बेमेल गठबंधन से राज्य मुक्त करने के लिए बिहार के युवाओं को एक साथ आने की जरूरत है।

कितनी बार पाला बदलेंगे?

आरसीपी सिंह ने कहा था कि “वह (नीतीश कुमार) कितनी बार पाला बदलेंगे? वह पहले ही चार बार 1994, 2013, 2017 और 2022 में ऐसा कर चुके हैं।” उन्होंने कहा, “यह निश्चित है कि जद (यू) का राजद में विलय होगा। यह समय की जरूरत है कि बिहार के युवा राज्य को दोनों पार्टियों के बेमेल गठबंधन से मुक्त करने और बिहार को विनाश से बचाने के लिए एक साथ आएं।” .

भाजपा के एजेंट

जनता दल (यूनाइटेड) के अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ ​​ललन सिंह ने गुरुवार को कहा कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष आरसीपी
सिंह को पार्टी प्रमुख के पद से इसलिए निष्कासित कर दिया गया क्योंकि वह “भाजपा के एजेंट” हैं। ललन सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार के तीसरी बार राज्यसभा में आरसीपी नहीं भेजने के फैसले के पीछे यही कारण है। ललन ने कहा “आरसीपी सिंह ने आज भाजपा में शामिल होने की घोषणा की है। वह पहले से ही भाजपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे थे। जो कोई भी जद (यू) के अस्तित्व को खत्म करने की बात करेगा, वह अपना अस्तित्व खो देगा।”

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -