Saturday, December 3, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Rajasthan MIG 21 Crash: शहीद फ्लाइट लेफ्टिनेंट अद्वितीय बल की पार्थिव देह पहुंची जम्मू, अंतिम संस्कार कुछ देर में

राजस्थान के बाड़मेर में मिग-21 लड़ाकू विमान दुर्घटना में अपनी जान गंवाने वाले फ्लाइट लेफ्टिनेंट अदित्य बल की पार्थिव देह जम्मू में उनके पैतृक स्थान पर पहुंची

नई दिल्ली: राजस्थान के बाड़मेर में मिग-21 लड़ाकू विमान दुर्घटना में अपनी जान गंवाने वाले फ्लाइट लेफ्टिनेंट अदित्य बल की पार्थिव देह जम्मू में उनके पैतृक स्थान पर पहुंची। इस दौरान भारी तादाद में शहरवासी फ्लाइट लेफ्टिनेंट को श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

बल उन दो पायलटों में से एक थे, जो 28 जुलाई; गुरुवार की रात राजस्थान के बाड़मेर जिले के पास भारतीय वायु सेना (IAF) के एक ट्विन-सीटर मिग -21 ट्रेनर विमान दुर्घटना में शहीद हो गए थे।

 

वायुसेना ने हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दिए हैं।

IAF ने एक बयान में कहा, “IAF को पायलटों के जान गंवाने का गहरा अफसोस है और शोक संतप्त परिवारों के साथ खड़ा है। दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया गया है।”

वायुसेना का अहम फैसला

रूसी लड़ाकू विमान मिग-21 के बार-बार दुर्घटनाग्रस्त होने के मामलों के बीच भारतीय वायुसेना ने अहम फैसला लिया है। बता दें कि भारतीय वायु सेना 30 सितंबर तक मिग -21 बाइसन विमान के एक और स्क्वाड्रन को सेवानिवृत्त करने जा रही है।

गौरतलब है कि गुरुवार शाम राजस्थान के बाड़मेर में एक मिग-21 टाइप 69 ट्रेनर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें एक युवा फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए बाल और विंग कमांडर राणा सहित दोनों पायलट शहीद हो गए।

IAF के सूत्रों ने एएनआई को बताया, “श्रीनगर एयरबेस से बाहर स्थित 51 स्क्वाड्रन को 30 सितंबर को रिटायर किया जा रहा है। इसके बाद, विमानों के केवल तीन स्क्वाड्रन सेवा में रह जाएंगे और वर्ष 2025 तक चरणबद्ध हो जाएंगे।” उन्होंने कहा कि अब हर साल इन विमानों में से प्रत्येक पर एक स्क्वाड्रन की नंबर प्लेट जाएगी।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -