Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

Sushant Singh Rajput Drug Case: Bombay HC ने समीर वानखेड़े की सुनवाई पर लगाया ब्रेक, जानें क्या है पूरा मामला?

Sushant Singh Rajput Drug Case: सुशांत सिंह राजपूत ड्रग केस की जांच करने वाले IRS अधिकारी समीर वानखेड़े को बॉम्बे हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने समीर के खिलाफ किसी भी दंडात्मक कार्रवाई पर रोक लगा दी है।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Apr 2, 2024 10:36
Share :
Sushant Singh Rajput Sameer Wankhede

Sushant Singh Rajput Drug Case: सुशांत सिंह राजपूत के ड्रग केस में फंसे NCB अफसर समीर वानखेड़े पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। हाईकोर्ट ने समीर वानखेड़े पर होने वाली सभी दंडात्मक कार्रवाइयों पर रोक लगा दिया है। बॉम्बे हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद समीर वानखेड़े ने राहत की सांस ली है। तो आइए जानते हैं कि आखिर क्या है ये पूरा मामला?

देश-दुन‍िया की पल-पल की अपडेट News24 के लाइव ब्‍लॉग पर

सुशांत की मौत से शुरू हुआ सिलसिला

जून 2020 में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने कई बॉलीवुड हस्तियों पर निशाना साधा था। इस दौरान सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और भाई शोवित चक्रवर्ती सहित बी-टाउन की 33 हस्तियां NCB के रडार पर थीं। NCB के तत्कालीन अध्यक्ष समीर वानखेड़े इस पूरे मामले की जांच कर रहे थे। बॉलीवुड के ड्रग रैकेट का पर्दाफाश करने में जुटे समीर वानखेड़े ने एक नाइजीरियन ड्रग सप्लायर को गिरफ्तार किया, जिसके बाद समीर वानखेड़े पर जांच में हेरा फेरी करने का आरोप लगा था।

NCB ने जारी किया नोटिस

नंवबर 2023 से लेकर मार्च 2024 के बीच में NCB ने समीर वानखेड़े को 8 नोटिस जारी किए। समीर को पूछताछ के लिए NCB ब्यूरो बुलाया गया। मगर समीर वानखेड़े का कहना है कि NCB के डिप्टी डायरेक्टर जनरल संजय सिंह उनसे पूछताछ करेंगे। बता दें कि सुशांत सिंह ड्रग केस में संजय सामीर वानखेड़े के जूनियर थे। ऐसे में समीर का आरोप है कि उन्हें फंसाने की कोशिश की जा रही है, जिसके चलते उन्होंने प्राथमिक जांच अधिकारी को बदलने की मांग की है।

कोर्ट ने सुनाया फैसला

समीर वानखेड़े की अपील पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट की जस्टिस रेवती मोहिते ने 10 अप्रैल तक NCB से जवाब मांगा है। तब तक समीर वानखेड़े पर कोई भी दंडात्मक कार्रवाई नहीं हो सकती है। हालांकि वानखेड़े की याचिका पर NCB की वकील मनीषा जगताप का कहना है कि, कौन सा अधिकारी समीर की प्राथमिक जांच में शामिल होगा, इसका फैसला खुद समीर वानखेडे़ नहीं कर सकते हैं।

2008 बैच के IRS ऑफिसर हैं समीर वानखेड़े

समीर वानखेड़े 2008 बैच के IRS ऑफिसर हैं। इंडियन रेवन्यू सर्विस का हिस्सा बनने के बाद समीर वानखेड़े की पहली पोस्टिंग डिप्टी कस्टम कमिश्नर के रूप में मुंबई के छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हुई थी। अपने अब तक के कार्यकाल में समीर वानखेड़े ने 17 हजार करोड़ के ड्रग रैकेट का पर्दाफाश किया है। समीर वानखेड़े को ड्रग स्पेशलिस्ट कहा जाता था। यही वजह है कि सुशांत की मौत के बाद ड्रग केस का खुलासा करने के लिए समीर वानखेड़े को नियुक्त किया गया था।

 

First published on: Apr 02, 2024 10:03 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें