Tuesday, January 31, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

गधों और कुत्तों के जरिए अपनी आर्थिक स्थिति को सुधारेगा पाकिस्तान, चीन ऐसे करेगा मदद

पिछले साल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने विदेशी मुद्रा अर्जित करने के लिए गधों के निर्यात को शुरू करने के लिए ओकारा जिले में एक फार्म स्थापित किया था।

नई दिल्ली: पाकिस्तान भयकंर बाढ़ के बाद से आर्थिक संकटों का सामना कर रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अब पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए गधों और कुत्तों का सहारा लिया जा सकता है। खबर है कि पाकिस्तान गधों को कुत्तों को चीन को निर्यात करेगा जिससे विदेशी मुद्रा भंडार में इजाफा होगा।

अभी पढ़ें Cheetah In India: चीतों के आगमन पर बोले सीएम शिवराज, कहा- 70 साल बाद आया ऐतिहासिक पल

पाकिस्तानी चैनल जियो न्यूज की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान के वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा है कि चीन ने पाकिस्तान से गधों और कुत्तों को आयात करने में दिलचस्पी दिखाई है। अधिकारियों ने कहा कि चीन मांस निर्यात करने के लिए एक बड़ा बाजार था। स्थायी समिति के सदस्य दिनेश कुमार ने कहा कि चीन पाकिस्तान से गधों के साथ-साथ कुत्तों को भी निर्यात करने के लिए कह रहा है।

चीनी राजदूत ने पाकिस्तान की है बात

सीनेटर अब्दुल कादिर ने कहा कि चीनी राजदूत ने कई बार पाकिस्तान से मांस निर्यात करने की बात की है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, सीनेटर मिर्जा मुहम्मद अफरीदी ने अपने सुझाव में कहा कि चूंकि अफगानिस्तान में जानवर तुलनात्मक रूप से सस्ते हैं, इसलिए पाकिस्तान उन्हें वहां से आयात कर सकता है और फिर चीन को इनका मांस निर्यात कर सकता है।

वहीं, वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारियों ने समिति को सूचित किया कि जानवरों में फैले लंपी वायरस के कारण अफगानिस्तान से गधों के आयात पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया था। बता दें कि चीन में गधों के चमड़े का इस्तेमाल दवाईयों को बनाने में किया जाता है, जबकि यहां लोग कुत्तों का मीट खाया जाता है। एक अनुमान के मुताबिक, साल 2021 में चीन ने 9.38 मीलियन टन मीट आयात किया था जो कि 2020 में 9.91 मीलियन टन था।

पहले भी चीन ने दिखाई थी दिलचस्पी

ये पहली बार नहीं है जब चीन पाकिस्तान से गधों और कुत्तों को आयात करने में दिलचस्पी दिखा रहा है। इससे पहले साल 2017 में तत्कालीन इमरान खान सरकार ने ‘गधा विकास कार्यक्रम’ के तहत खैबर पख्तूनख्वा में चीनी निवेशकों को आकर्षित करने के लिए गधे रखे थे।

अभी पढ़ें आंध्र प्रदेश के डॉक्टर ने यूक्रेन में पाला था जगुआर और पैंथर, अब भारत सरकार से की ये अपील

वहीं, पिछले साल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने विदेशी मुद्रा अर्जित करने के लिए गधों के निर्यात को शुरू करने के लिए ओकारा जिले में एक फार्म स्थापित किया था।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -