---विज्ञापन---

9000 फीट ऊंचाई, 700 की स्पीड, जहाज पलटियां खाते हुए जमीन से टकराया और धमाके के साथ क्रैश, मारे गए 132 लोग

China Airlines Flight Crash Memoir: चीन में करीब 9 हजार फीट की ऊंचाई से गिरकर हवाई जहाज क्रैश हुआ था और करीब 132 लोग मारे गए थे। जहाज पलटियां खाते हुए नीचे की ओर आया और जमीन से जोरदार तरीके से टकराया। इसके बाद जहाज में धमाके के साथ आग लग गई। सभी पैसेंजरों और क्रू मेंबर्स की लाशों के टुकड़े बिखरे मिले थे।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Mar 21, 2024 08:05
Share :
China Eastern Airlines Flight 5735 Crash Anniversary
China Eastern Airlines Flight 5735 Crash Anniversary

China Airlines Flight Crash Memoir: बोइंग प्लेन 9000 फीट की ऊंचाई पर था, अचानक स्पीड 700 किलोमीटर प्रति घंटा हो गई और जहाज पलटियां खाते हुए नीचे की ओर गिरा। पैसेंजरों की चीख पुकार मच गई। इस बीच जहाज जमीन से टकराया और धमाके के साथ क्रैश हो गया।

जहाज के जमीन से टकराने से 100 फीट (30 मीटर) चौड़ा और 66 फीट (20 मीटर) गहरा गड्ढा बन गया, जिसके अंदर जहाज का मलबा मिला और जहाज में सवार 132 लोगों की लाशें भी इधर उधर बिखरी पड़ी थीं।

मृतकों के परिजनों का कहना है कि जहाज को जानबूझकर क्रैश कराया गया, लेकिन चीन के नागरिक उड्डयन प्रशासन (CAAC) द्वारा आधिकारिक जांच आज तक जारी है। चाइना साउदर्न एयरलाइंस फ्लाइट 3943 और चाइना नॉर्थवेस्ट एयरलाइंस फ्लाइट 2303 के बाद यह हादसा चीन में तीसरी सबसे घातक हादसा था।

 

जांच में न मौसम खराब मिला, न टेक्निकल फॉल्ट

हादसा आज से 2 साल पहले 21 मार्च 2022 को हुआ था। चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस की फ्लाइट 5735 ने बोइंग प्लेन 737-89पी में पैसेंजरों के लेकर चीन के कुनमिंग चांगशुई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से गुआंगज़ौ बाईयुन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए उड़ी थी। घरेलू उड़ान थी, लेकिन टेंग काउंटी, वुझोउ, गुआंग्शी ज़ुआंग एरिया में दुर्घटनग्रस्त हो गई। 20 अप्रैल 2022 को CAAC ने हादसे की प्रारंभिक रिपोर्ट जारी की।

इसमें बताया गया कि क्रू मेंबर्स और ATC के बीच कम्युनिकेशन बिल्कुल ठीक था। मौसम साफ था और प्लेन में कोई टेक्निकल फॉल्ट भी नहीं आया था। कोई विस्फोटक सामान भी नहीं मिला, लेकिन हादसा होने की वजह भी सामने नहीं आई है। जहाज को दोनों रिकॉर्डर भी बुरी हालत में मिले। ब्लैक बॉक्स भी डैमेज हो चुका है, फिर भी दोनों को जांच के लिए भेजा गया, रिजल्ट आने का इंतजार है।

 

हादसा होने का कारण ज्यादा स्पीड होने का शक

जांच रिपोर्ट में बताया गया कि वुझोउ शहर के ऊपर जहाज का ATC टीम से संपर्क अचानक टूट गया था। गुआंगज़ौ में जहाज 29,100 फीट (8,900 मीटर) की ऊंचाई से अचानक तेजी से नीचे आया। 7400 फीट (2,300 मीटर) की ऊंचाई पर संभल गया और 9,225 फीट (2,812 मीटर) की ऊंचाई पर पहुंचकर अपने गंतव्य की ओर बढ़ रहा था कि अचानक जहाज की स्पीड 696 किलोमीटर प्रति घंटा हो गई।

फिर जहाज इतनी तेजी से नीचे आया कि टेंग काउंटी के पहाड़ी इलाके में जमीन से टकरा गया। मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के अंतरिक्ष यात्री और वैमानिकी प्रोफेसर के कहते हैं कि फ्लाइटराडार24 के डेटा के अनुसार जहाज 640 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से सफर कर रहा था और हादसे के वक्त स्पीड 1126 किलोमीटर प्रति घंटा (700 मील प्रति घंटे) हो गई, यानी हादसा स्पीड के कारण हुआ।

 

हादसास्थल के पास फैक्ट्री के CCTV में मिली फुटेज

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, हादसास्थल के आस-पास रहने वाले लोगों ने जोरदार धमाके की आवाज सुनी। उन्होंने पहाड़ पर आग की लपटें देखीं। हादसास्थल के पास बनी खनन फैक्ट्री में लगे CCTV कैमरों में हादसा कैप्चर हुआ। इसमें दिखाई दिया कि जहाज पलटियां खाते हुए मुंह के बल नीचे की ओर आया।

फुटेज में मलबा और आग भी दिखाई दी। जहाज के छोटे-छोटे टुकड़े आस-पास के इलाके में भी बिखरे हुए थे। जहाज में 123 पैसेंजर और 9 क्रू मेंबर्स थे। सभी चीनी नागरिक थे। फ्लाइट क्रू में 3 पायलट, 5 फ्लाइट अटेंडेंट और एक इन-फ्लाइट सुरक्षा गार्ड शामिल था।

First published on: Mar 21, 2024 07:29 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें