---विज्ञापन---

Make In India के कारण परेशान हुए भारतीय बैंक, सरकार और RBI से की शिकायत

ATM Shortage Due To Make In India: भारत में ऑटोमेटेड टेलर मशीन (ATM) की भारी कमी हो गई है। इस कमी की शिकायत कई बैंकों ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) और सरकार से की है। क्या है पूरा मामला, जानिए। 

Edited By : Deepti Sharma | Updated: Jun 19, 2024 21:41
Share :
Image Credit: Freepik

ATM Shortage Due To Make In India: बैंकों ने सरकार और भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) को ऑटोमेटेड टेलर मशीन (ATM) की सप्लाई में कमी के चलते एक रिपोर्ट में यह दावा किया है कि बैंकों ने सरकारी ई-मार्केटप्लेस के जरिए खरीद के नॉर्म में स्पष्टता के लिए भी प्रेशर डाला है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले महीने अधिकारियों के साथ एक मीटिंग के दौरान प्रमुख बैंकों ने यह मामला उठाया था कि यह एक बड़ा मुद्दा है कि एटीएम विक्रेताओं के पास क्षमता नहीं है। एक रिपोर्ट के अनुसार, कम क्षमता की वजह वित्त वर्ष 20 में लागू किए गए ‘मेक इन इंडिया’ गाइडलाइन से जुड़ा है। इसकी वजह से विक्रेताओं को भारतीय परिचालन स्थापित करने में टाइम लगा। सभी ATM विक्रेता रजिस्टर नहीं हैं और किसी भी सतर्कता कार्रवाई से बचने के लिए प्रोसेस और गाइडलाइन पर ज्यादा स्पष्टता की भी जरुरत है।

क्या है पूरा मामला, क्यों ये कमी आई? ATM की हो रही कमी पर बैंकों ने आरबीआई से क्या कुछ कहा, आइए जान लेते हैं पूरा मामला..

 

ये भी पढ़ें- Reasi Terrorist Attack : आतंकियों का मददगार कौन? सिर्फ 6000 रुपये के लिए मरवा दिए 9 भारतीय

ये भी पढ़ें- Jammu-Kashmir: बारामूला में गोलियों की तड़तड़ाहट, मारे गए 2 आतंकी, सामने आया Video

 

First published on: Jun 19, 2024 09:32 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें