---विज्ञापन---

Video: ‘Sir हमें छोड़ कर मत जाइए’; टीचर की विदाई पर छात्राएं फूट-फूट कर रोईं, 12 अस्पताल में भर्ती

Teacher Farewell Video Viral: सर हमें छोड़कर मत जाइए, हमें आप ही चाहिए, नहीं तो हम स्कूल नहीं आएंगी, टीचर की विदाई में छात्राएं फूट-फूट कर रोईं, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Dec 6, 2023 19:26
Share :
Girl Students Crying
Girl Students Crying

अवधेश कुमार/ गोपालगंज

Girl Students Crying In Teacher Farewell Party: देश में गुरु का स्थान भगवान से ऊपर माना गया है। इसका जीता जागता प्रमाण बिहार में देखने को मिला। BPSC से नियुक्त शिक्षक की ट्रांसफर हो गई, लेकिन जब उन्हें फेयरवेल दी गई तो उन्हें जाते देखकर छात्राएं भावुक हो गईं। वे फूट-फूट कर रोने लगीं। माहौल इतना गमगीन हो गया कि रो रही छात्राओं को देखकर लोगों की आंखें भी भर आईं। वहीं रो-रोकर बेहाल हुई कुछ छात्राएं बेहोश तक हो गईं। यह देखकर स्कूल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में एंबुलेंस बुलाकर छात्राओं को अस्पताल पहुंचाया गया। मामला बिहार जिले के गोपालगंज के फुलवरिया प्रखंड स्थित सेलार कला गांव का है।

 

छात्राओं को अस्पतपल से घर भेज दिया गया

दरअसल, बुधवार को राबड़ी देवी गर्ल्स प्लस-टू विद्यालय में प्रभारी प्रधानाध्यापक धनंजय कुमार मधुप का विदाई समारोह था। प्रधानाध्यापक की दूसरे विद्यालय में नियुक्ति होने पर गांव के लोगों ने शिक्षक की विदाई एक अनोखे अंदाज में की। वहीं स्कूल की छात्राएं फूट-फूटकर रोने लगीं और शिक्षक को विद्यालय से जाने पर रोकने लगीं। छात्राओं के फूट-फूटकर रोने से विद्यालय का पूरा माहौल गमगीन हो गया था। यहां पढ़ने वाली करीब 300 छात्राएं मायूस दिखीं। धनंजय कुमार मधुप को जाते देखकर छात्राएं इस कदर रोने लगीं कि 12 छात्राएं बेहोश हो गईं। शिक्षकों की मदद से स्थानीय अस्पताल की एंबुलेंस में छात्राओं को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से इलाज के बाद उन्हें घर भेज दिया गया।

लेटेस्ट खबरों के लिए फॉलो करें News24 का WhatsApp Channel

N24 Whatsapp Group

हमें यह सर चाहिएं, नहीं तो हम स्कूल नहीं आएंगी

धनंजय कुमार मधुप विद्यालय में प्रभारी प्रधानाध्यापक के साथ गणित विषय के शिक्षक थे। BPSC से अध्यापक होने के बाद उनकी नियुक्ति थावे मुखीराम प्लस-टू की गई है। इनके साथ सुबाष यादव भी दूसरे विद्यालय में नियुक्ति हुई है। छात्राएं बताती हैं कि आज हमारे सर यहां से निकलकर दूसरे विद्यालय थावे के मुखीराम हाई स्कूल में जा रहे हैं। इसलिए हम स्कूल के बाहर खड़े हैं। हमें यही सर चाहिएं, कोई दूसरे सर नहीं चाहिएं, नहीं तो हम आज के बाद इस स्कूल में नहीं पढ़ेंगे। धनंजय कुमार मधुप ऐसे शिक्षक हैं, जिनके पास एक उत्‍कृष्‍ट शिक्षक होने के सभी गुण मौजूद हैं, इसलिए उन्होंने विद्यालय की व्यवस्था भी बहुत अच्छी रखी है। कार्यक्रम में शामिल शिक्षक प्रीतम पांडेय, राहुल पांडेय, बीरेंद्र सहनी, सुजीत तिवारी, विनीत श्रीवास्तव, दुर्गेश कुमार, श्रीनिवास प्रजापति ने बताया कि शिक्षक धनंजय कुमार मधुप का दूसरे विद्यालय में BPSC सेवा से नियुक्ति होने से विद्यालय की छात्राओं में मायूसी है।

First published on: Dec 06, 2023 07:25 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें