---विज्ञापन---

Mysterious: पहचान के बाद पिता का शव का किया अंतिम संस्कार, 7 दिन बाद जिंदा मिलने पर उड़े होश, जानें क्या है मामला

लखीमपुर खीरीः उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक युवक ने शव की सिनाख्त अपने पिता के रूप में की। पुलिस ने भी कागजी कार्रवाई के बाद शव परिवार वालों को सौंप दिया। परिवार वालों ने भी शव का अंतिम संस्कार कर दिया, लेकिन एक हफ्ते बाद […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Sep 1, 2022 14:18
Share :
neet suicide case
neet suicide case

लखीमपुर खीरीः उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक युवक ने शव की सिनाख्त अपने पिता के रूप में की। पुलिस ने भी कागजी कार्रवाई के बाद शव परिवार वालों को सौंप दिया। परिवार वालों ने भी शव का अंतिम संस्कार कर दिया, लेकिन एक हफ्ते बाद ही एक अस्पताल से सूचना आई कि उसके पिता अस्पताल में भर्ती हैं। उनके पैर में फ्रैक्चर है। अब पुलिस मामले की जांच में जुट गई है कि आखिर किसके शव का अंतिम संस्कार हो गया। घटना इलाके में चर्चा का विषय बन गई है।

22 अगस्त को शाहजहांपुर में मिली था अज्ञात शव

दरअसल, यूपी के शाहजहांपुर के अजीजगंज क्षेत्र में 22 अगस्त को एक अज्ञात शव बरामद हुआ। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस मे रखवा दिया। साथ ही उसकी शिनाख्त के प्रयास शुरू कर दिए। इसी बीच अपने पिता को खोज रहे लखीमपुर खीरी निवासी इंद्र कुमार ने शव की शिनाख्त अपने पिता के रूप में की। पुलिस ने भी सभी कागजी कार्यवाही के बाद शव इंद्र कुमार को सौंप दिया। इंद्र कुमार शव को लेकर अपने गांव चला गया। घर-परिवार वालों ने हिंदू रिति-रिवाजों के मुताबिक शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

एक हफ्ते बाद सूचना आई, आपके पिता अस्पताल में भर्ती हैं

परिवार में गम का माहौल था। इसी बीच एक अस्पताल से इंद्र कुमार को सूचना मिली कि उसके पिता यहां भर्ती हैं। एक हादसे में उसने पैर में फ्रैचर हो गया है। करीब एक हफ्ते से अस्पताल में हैं। यह सुनकर परिवार वाले हैरान रह गए। आनन-फानन में अस्पताल पहुंचे तो पिता को जीवित पाया। अब परिवार वाले खुशी के साथ असमंजस में भी थे, कि उन्होंने आखिर किसका अंतिम संस्कार कर दिया। परिवार के लोगों ने तत्काल मामले की जानकारी पुलिस को दी। एक पत्र देकर पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया।

पुलिस भी हैरान कि आखिर किसके शव का हो गया अंतिम संस्कार

शाहजहांपुर के एएसपी संजय कुमार ने बताया कि एक व्यक्ति ने पोस्टमार्टम हाउस में रखे शव की शिनाख्त अपने पिता के रूप में की थी। पुलिस ने कागजी कार्रवाई के बाद शव को उसके सुपुर्द किया था, लेकिन जानकारी में आया है कि उसके पिता जीवित हैं और किसी अस्पताल में भर्ती हैं। वहीं शव को ले जाने व्यक्ति में पुलिस को लिखित रूप से पूरे घटनाक्रम के बारे में बताया है। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही पुलिस शव को ले जाने वाले परिवार के बारे में भी जानकारी कर रही है।

 

First published on: Sep 01, 2022 02:18 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें