Thursday, 18 April, 2024

---विज्ञापन---

Ajmer News: SOG के बड़े अधिकारी के ठिकानों पर एसीबी ने क्यों की छामेमारी? जानिए…

अजमेर से संदीप टाक की रिपोर्टः अजमेर (Ajmer) में करोड़ों रुपए की नशीली दवा तस्करी प्रकरण (NDPS) में जांच अधिकारी एसओजी (SOG) की एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल (Divya Mittal) के घर एसीबी (ACB) ने सोमवार को छापेमारी की। एसीबी ने सोमवार को अजमेर(Ajmer), उदयपुर (Udaipur) , झुंझुनू (Jhunjhunu) और जयपुर (Jaipur) में दिव्या मित्तल के पांच […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Mar 8, 2024 17:58
Share :
Additional SP Divya

अजमेर से संदीप टाक की रिपोर्टः अजमेर (Ajmer) में करोड़ों रुपए की नशीली दवा तस्करी प्रकरण (NDPS) में जांच अधिकारी एसओजी (SOG) की एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल (Divya Mittal) के घर एसीबी (ACB) ने सोमवार को छापेमारी की। एसीबी ने सोमवार को अजमेर(Ajmer), उदयपुर (Udaipur) , झुंझुनू (Jhunjhunu) और जयपुर (Jaipur) में दिव्या मित्तल के पांच ठिकानों पर एक साथ सर्च किया।

एसीबी एडिशनल एसपी बजरंग सिंह के अनुसार परिवादी ने पिछले दिनों शिकायत की थी कि प्रकरण में उसे आरोपी बनाने की धमकी देकर जांच अधिकारी दिव्या मित्तल ने दो करोड़ रुपए रिश्वत की डिमांड की है।

और पढ़िए –Delhi Police: MS धोनी और विराट कोहली की बेटियों पर अश्लील कमेंट का मामला, दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR

परिवादी को टॉर्चर करने का आरोप

मित्तल ने अपने एक दलाल के माध्यम से परिवादी को उदयपुर (Udaipur) बुलाया गया। वहां दिव्या मित्तल के रिसोर्ट और फॉर्म हाउस (Farm House) में दलाल ने डरा-धमका कर दो करोड़ रुपए की रिश्वत मांगी। परिवादी ने बताया कि दिव्या मित्तल को पहली किस्त के तौर पर पच्चीस लाख रुपए दलाल को दिए थे, यह राशि दलाल अजमेर में दिव्या मित्तल को देने वाला था। लेकिन शक होने के कारण उसने यह राशि नहीं दी।

रंगे हाथों पकड़ने की थी तैयारी

इधर एसीबी ने रंगे हाथों पकड़ने के लिए ट्रैप की कार्रवाई का इंतजाम भी किया था लेकिन यह फेल हो गया। क्योंकि घूस डिमांड सत्यापित होने के कारण एसीबी ने कोर्ट के आदेश से सर्च वारंट जारी करवाया और दिव्या मित्तल की सभी ठिकानों पर एक साथ तलाशी ली जा रही है।

और पढ़िए –Joshimath Sinking: सुप्रीम कोर्ट ने जोशीमठ को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई से किया इनकार, कहा- HC जाएं

यह था मामला

2 साल पहले अजमेर में करीब 11 करोड रुपए कीमत की प्रतिबंधित नशीली दवाएं पकड़ी गई थी। इस मामले में रामगंज और अलवर गेट थाना पुलिस ने चार मुकदमे दर्ज किए थे, एक के बाद एक जांच अधिकारी बदलने के बाद मामला एसओजी को सौंपा गया था। एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल के सरकारी आवास से पत्रावली बीएसईबी जब्त कर रही है अजमेर के पीआरजी में दिव्या के फ्लैट संख्या 204 में दिव्या के सामने सर्च कार्रवाई को अंजाम दिया गया।

और पढ़िए –देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

(fastfoodmenuprices.com)

First published on: Jan 16, 2023 04:13 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें