Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

‘विधायकों की बाड़ेबंदी की बात झूठी’, BJP MLA कंवर लाल मीणा ने बताई ‘पूरी कहानी’

Vasundhara Raje Son Dushyant Singh Resort Politics: बीजेपी नेता हेमराज मीणा ने दुष्यंत सिंह विधायकों की बाड़ेबंदी का आरोप लगाया।

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Dec 7, 2023 23:32
Share :
Dushyant Singh Resort Politics BJP MLA Kanwar Lal Meena claims hemraj meena allegations fake
Dushyant Singh Resort Politics BJP MLA Kanwar Lal Meena claims hemraj meena allegations fake

Vasundhara Raje Son Dushyant Singh Resort Politics: राजस्थान के विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रहे सस्पेंस के बीच गुरुवार दोपहर बड़ी खबर सामने आई। बीजेपी नेता हेमराज मीणा ने वसुंधरा राजे के बेटे दुष्यंत सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके बेटे ललित मीणा समेत कुछ विधायकों की एक रिजॉर्ट में बाड़ेबंदी की गई है।

हालांकि अब हेमराज मीणा के दावों को खारिज करते हुए रिजॉर्ट में रुके एक विधायक कंवर लाल मीणा ने कहा कि ये आरोप पूरी तरह से झूठे हैं। कंवर लाल मीणा ने पूछा कि क्या किसी विधायक को उनकी सहमति के बिना जबरन ले जाया जा सकता है? मीणा ने एक बयान में कहा- “विधायक ललित मीणा के पिता हेमराज मीणा द्वारा लगाए गए आरोप पूरी तरह से झूठे हैं। हम सभी झालावाड़-बारां लोकसभा क्षेत्र से विधायक हैं, जो चुनाव जीतने के बाद विधायक ललित मीणा सहित बारां में आरएसएस और भाजपा कार्यालय गए थे।”

”सुबह 6 बजे हम जयपुर आए और एक होटल में एक साथ रुके। यह कहना गलत है कि यह बाड़ेबंदी थी।” उन्होंने कहा कि दुष्यन्त सिंह का अपना लोकसभा क्षेत्र झालावाड़ बारां है। अपने लोकसभा क्षेत्र के विधायकों की बाड़ाबंदी कौन करेगा?

कंवर लाल मीणा ने इस घटनाक्रम की पूरी कहानी बताने की कोशिश की। उन्होंने कहा- ”यह घटना 5 दिसंबर की रात 2.30 बजे की है। उस दिन 30-35 लोग हमारे होटल में आए और विधायक ललित मीणा को ले जाने लगे। जान-पहचान न होने के कारण हमने ललित जी को उनके साथ नहीं भेजा। बाद में जब उनके पिता हेमराज आए तो खुशी-खुशी ललित मीणा को उनके साथ भेज दिया। कंवर लाल ने आगे कहा कि सांसद दुष्यन्त सिंह उस दिन लोकसभा में थे। उनकी उपस्थिति लोकसभा में देखी जा सकती है। वे तब से दिल्ली में हैं।

News24 Whatsapp Channel

उन्होंने कहा- “मैं और विधायक ललित मीणा सहित कुछ अन्य लोग जयपुर आए थे, हम थके हुए थे इसलिए हम रिजॉर्ट में जाकर रुके। अगले दिन हम भाजपा कार्यालय जाने और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से मिलने जाना चाहते थे, हालांकि हम ऐसा नहीं कर सके। गोगामेड़ी की हत्या की घटना के कारण हमने जोखिम नहीं लिया।”

”परिस्थितियां ऐसी बनीं कि हम उसी होटल में रुके और हमने खाना खाया और सो गए। आधी रात को लगभग 2:30 बजे, 30-35 अनजान लोग आए और ललित को अपने साथ ले जाने को कहा, लेकिन मैंने उन्हें नहीं ले जाने दिया। जब ललित के पिता आए तो हमने ललित को उनके साथ भेज दिया। इसमें उन्हें रोकने की कोई बात नहीं थी।”

इस बीच, कंवर लाल ने हेमराज मीणा और खुद का नार्को टेस्ट कराने की भी मांग की। उन्होंने कहा- “मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं। मेरा और हेमराज मीना का नार्को टेस्ट कराया जाए, सच सामने आ जाएगा।”

उन्होंने आगे कहा- ”हेमराज मीणा का कहना है कि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भी रात को होटल रिसॉर्ट में आए थे, लेकिन वहां न तो बीजेपी अध्यक्ष सीपी जोशी आए और न ही विधायक और महासचिव भजनलाल शर्मा… अगर वे आते तो हम सब खुशी-खुशी उनके साथ जाते क्योंकि हम पार्टी पदाधिकारियों से मिलने के लिए ही जयपुर आए थे।”

कंवरलाल मीणा ने आरोप लगाया कि यह सब साजिश सिर्फ हेमराज मीणा के दिमाग की उपज है। दरअसल, विधायक ललित मीणा के पिता ने दावा किया था कि किशनगंज के नवनिर्वाचित विधायक को चार अन्य लोगों के साथ वसुंधरा राजे के बेटे सांसद दुष्यंत सिंह ने रिसॉर्ट में कैद कर लिया था।

हेमराज ने कहा कि सांसद दुष्यंत मेरे बेटे और झालावाड़-बारां के विधायकों को जयपुर ले आए थे। जब ललित शाम को घर नहीं लौटे तो मैंने उनसे बात की। उन्होंने कहा कि मैं सीकर रोड पर एक रिसॉर्ट में हूं और लोग उन्हें जाने नहीं दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें: Resort Politics: वसुंधरा राजे ने बगावत की तो कितनी सीटों की पड़ेगी जरूरत, जानें पूरा समीकरण 

First published on: Dec 07, 2023 11:13 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें