Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

‘गाड़ी ठीक कराने के बहाने घर से निकला था नितिन फौजी’, पिता का बड़ा खुलासा; गोगामेड़ी हत्याकांड में SIT गठित

Karni Sena Chief Sukhdev Gogamedi Murder: नितिन फौजी के पिता कृष्ण कुमार किसी से ज्यादा बात नहीं कर रहे, लेकिन पुलिस द्वारा पूछे जाने पर पढ़ें उन्होंने क्या बताया?

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Dec 6, 2023 18:12
Share :
Shooter Nitin Fauji
Shooter Nitin Fauji

Nitin Fauji Father Krishan Kumar Statement: जयपुर में श्री राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी मर्डर केस के आरोपी नितिन फौजी के पिता कृष्ण कुमार का बयान सामने आया है। हालांकि वे किसी से ज्यादा बात नहीं कर रहे, लेकिन पुलिस द्वारा पूछे जाने पर कृष्ण कुमार ने बताया कि 9 नवंबर के बाद उनका बेटे से कोई संपर्क नहीं
हुआ। नितिन 9 नवंबर को सुबह करीब 11 बजे घर से गाड़ी ठीक करवाने के लिए महेंद्रगढ़ जाने के लिए निकला था। उसके बाद से उनकी बेटे से बात नहीं हुई। 22 साल का नितिन 3 भाई-बहनों में से एक है। नितिन का भाई विकास भी आर्मी में है। नितिन की शादी भी एक साल पहले ही हुई थी। अब उसने क्या किया है, क्या नहीं, उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा है।

 

गोगामेड़ी हत्याकांड की जांच करेगी SIT

वहीं करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी मर्डर केस की जांच के लिए SIT गठित कर दी गई है। DGP उमेश मिश्रा ने गोगामेड़ी हत्याकांड की गहन जांच के लिए SIT बनाई है, जिसकी अध्यक्षता ADG क्राइम दिनेश एनएम करेंगे। गोगामेड़ी हत्याकांड के आरोपियों की पहचान रोहित राठौड़ मकराना, नागौर और नितिन फौजी के रूप में हुई है। वहीं मामले को लेकर महेंद्रगढ़ की दौंगड़ा चौकी के इंचार्ज प्रीतम सिंह का कहना है कि आरोपी नितिन दौंगड़ा जाट का रहने वाला है। यह राजस्थान पुलिस का मामला है और हमसे इस बारे में जो भी सहयोग मांगा जाएगा, हम करने को तैयार हैं।

महेंद्रगढ़ का रहने वाला शूटर नितिन फौजी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गोगामेड़ी की हत्या में शामिल नितिन फौजी महेंद्रगढ़ के दौंगड़ा जाट का रहने वाला है। वह आर्मी का जवान है और इन दिनों अलवर में पोस्टेड है। फौजी के साथ पढ़ने वाले दीपक ने बताया कि वह 5 साल पहले आर्मी में भर्ती हुआ था और नवंबर में छुट्टियों पर घर आया हुआ था। उसकी शादी बहरोड़ अलवर में हुई है। नितिन मेरा क्लासमेट था। वह पढ़ाई में काफी तेज था, लेकिन वह आर्मी में जाना चाहता था। इसलिए वह तैयारी के लिए राजस्थान चला गया। वह पहले जम्मू में तैनात था, लेकिन अब उसकी पोस्टिंग अलवर में हो गई थी। नितिन का नेचर काफी अच्छा था, लेकिन इस तरह मर्डर केस में उसका नाम आना चौंकाने वाली बात है। नितिन के पिता भी आर्मी से रिटायर्ड हैं और इससे उनकी काफी बेइज्जती हुई है।

लेटेस्ट खबरों के लिए फॉलो करें News24 का WhatsApp Channel

N24 Whatsapp Group

First published on: Dec 06, 2023 02:51 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें