Wednesday, February 8, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

Raju Thehat Murder Case: आरोपियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद, पुलिस ने किए चौंकाने वाले खुलासे

Raju Thehat Murder Case: राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्याकांड में पुलिस ने चार शूटर्स सहित पांच आरोपियों को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है।

Raju Thehat Murder Case: राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्याकांड में पुलिस ने चार शूटर्स सहित पांच आरोपियों को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने दो बदमाशों को हरियाणा के बॉर्डर के पास डाबला से और तीन को झुंझुनूं के पौंख गांव से गिरफ्तार किया। गिरफ्तार आरोपियों में मनीष जाट और विक्रम गुर्जर सीकर का रहने वाला हैं। जबकि सतीश कुम्हार, जतिन मेघाल और नवीन मेघवाल हरियाणा के भिवानी का रहने वाला हैं।

पुलिस ने किये कई खुलासे

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद रविवार दोपहर एडीजी क्राइम रवि प्रकाश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई बड़े खुलासे किए। उन्होंने बताया कि आरोपियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए है। बदमाशों के पास से टर्की और चाइना मेड हथियार मिले है। साथ ही 183 कारतूस बरामद किए गए है। आरोपियों ने सीकर में 52 राउंड, बबई में 3 और आज मुठभेड़ के वक्त 5 राउंड फायर किए थे।

आरोपी पहचान छिपा के रह रहे थे

प्रेस वार्ता में एडीजी क्राइम रवि मेहरड़ा ने कहा कि पहचान छिपाते हुए सभी आरोपी छात्र बनकर रह रहे थे। उन्होंने बताया कि शूटर्स राजू ठेहट की हत्या करने के बाद वहां से भागे। इसके लिए उन्होंने पहले वहां खड़े ताराचंद से उनकी कार की चाबी छीनने की कोशिश की। ताराचंद ने इसका विरोध किया तो शूटर्स ने उनको भी गोली मार दी जिससे उनकी भी मौत हो गई। उसके बाद आरोपी दूसरे वाहन से फरार हो गए। बदमाशों की लोकेशन को लगातार ट्रेस किया गया। रातभर संभावित ठिकानों पर छापे मारे गए।

राजू ठेहट को सुरक्षा देने को लेकर ये बताया

एडीजी क्राइम ने कहा कि हार्डकोर अपराधियों को पकड़ने के लिए अभियान चलते रहते हैं। एक महीने से बदमाश छात्र बनकर इलाके में रह रहे थे। राजू ठेहट को सुरक्षा देने के मामले में मेहरड़ा ने कहा कि कई सुरक्षा एजेंसियों के एसेसमेंट के बाद ही निर्णय लिया जाता है। राजू ठेहट ने खुद निजी तौर पर सुरक्षा ले रखी थी। अभी बदमाशों के पीछे कौन-कौन है। इस बारे में पूछताछ के बाद ही सामने आएगा।

परिजनों से बात करके उचित मुआवजा दिया जाएगा

एडीजी क्राइम ने राजू ठेहट और ताराचंद के परिजनों से प्रशासन बात कर रहा है। नियमों अनुसार मुआवजा दिया जाएगा। कलेक्टर और उनकी टीम बात कर रही है। मुआवजे के बारे में सरकार निर्णय करती है। इस हत्याकांड के पीछे किसका हाथ है, इस बारे में पता नहीं चल पाया है। सोशल मीडिया पर कोई भी दावा कर सकता है। यह जांच का विषय है। हम सभी एंगल से मामले की जांच कर रहे हैं। हमारी पहली प्राथमिकता बदमाशों को पकड़ने की थी। क्योंकि धरना-प्रदर्शन चल रहे थे।

रोहित गोदारा पहले भी कई अपराधों में शामिल रहा है

एडीजी क्राइम रवि प्रकाश ने बताया कि राजू ठेहट हत्या की जिम्मेदारी लॉरेंस गैंग के रोहित गोदारा ने ली है। अपराधी रोहित गोदारा पर पूर्व में भी कई प्रकरण दर्ज है। सरदारशहर में 2019 में भींवराज सारण की हत्या में भी रोहित गोदारा मुख्य आरोपी था। सरदारशहर में सरपंच के देवर की हत्या में भी रोहित गोदारा मुख्य आरोपी था। रोहित के खिलाफ बीकानेर सहित चूरू, जयपुर, फलौदी में करीब 20 मुकदमें दर्ज है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -