Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

CM Ashok Gehlot: चूरू के तारानगर में लोगों से बोले सीएम गहलोत- ‘आप मांगते-मांगते थक जाओगे, मैं देते हुए नहीं थकूंगा’

CM Ashok Gehlot: सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि उन्होंने राजस्थान को वर्ष 2030 तक सुशासन की दृष्टि से देश का नंबर वन राज्य बनाने का सपना देखा है। प्रदेशवासियों की दृढ़ इच्छा शक्ति और संकल्प से यह सपना पूरा हो सकता है। उन्होंने सरकार की ओर से किए गए कार्यों पर चर्चा करते हुए कहा […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Apr 29, 2023 09:31
Share :
CM Ashok Gehlot In Churu

CM Ashok Gehlot: सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि उन्होंने राजस्थान को वर्ष 2030 तक सुशासन की दृष्टि से देश का नंबर वन राज्य बनाने का सपना देखा है। प्रदेशवासियों की दृढ़ इच्छा शक्ति और संकल्प से यह सपना पूरा हो सकता है। उन्होंने सरकार की ओर से किए गए कार्यों पर चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश की तरह ही तारानगर क्षेत्रा में विकास के लिए भरपूर कार्य हुए हैं। गहलोत ने कहा कि उन्होंने कहा था कि आप मांगते-मांगते थक जाओगे, मैं देते हुए नहीं थकूंगा।

सीएम शुक्रवार को चूरू जिले के तारानगर विधानसभा क्षेत्रा के बनियाला ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित महंगाई राहत कैंप एवं प्रशासन गांवों के संग अभियान के अवलोकन के दौरान उमड़े जन समूह को संबोधित कर रहे थे।

उनका दायित्व जनता की सेवा तन्मयता से करें- सीएम

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने उन्हें सेवा का अवसर दिया तो उनका भी दायित्व है कि वे जनता की सेवा तन्मयता से करें। इसलिए राजस्थान सरकार समाज के अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति के कल्याण का लक्ष्य लेकर काम कर रही है। मैंने अपने इस वादे को हमेशा पूरा करने का प्रयास किया है। आने वाले समय में जन कल्याण की योजनाओं को और मजबूत किया जाएगा।

राजस्थान में खोले 303 कॉलेज

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के इस कार्यकाल में विकास के लिए भरपूर काम हुए हैं। राज्य में आजादी के बाद अब तक 250 कॉलेज खुले थे, जबकि उन्होंने इसी कार्यकाल में 303 कॉलेज खोल दिए हैं। इसी प्रकार आजादी के बाद राज्य में केवल 12 कृषि कॉलेज खुले थे, जबकि राज्य सरकार के इस कार्यकाल में ही 42 कृषि कॉलेज खोले गए हैं।

सड़कों की गुणवत्ता के मामले में राजस्थान आज गुजरात से भी आगे बढ़ चुका है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी और लोकतंत्रा गांधीजी, नेहरू, बाबा साहेब अम्बेडकर, सरदार पटेल जैसे महापुरुषों की देन है। लोकतंत्र में जनता माई-बाप है। इसलिए आप लोग देखें कि कौन देश के विकास के लिए काम करता है, कौन महंगाई कम करने की दिशा में काम कर रहा है।

लोगों के चेहरे पर राहत देखकर मिलता है सुकून

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि महंगाई राहत कैंप में लोगों से मिलकर खुशी होती है, जब उनके चेहरे पर सुकून देखते हैं। राज्य सरकार महंगाई से राहत देने का भरपूर प्रयास कर रही है। कैंपों में आम जनता के काम हो रहे हैं। योजनाओं का लाभ हर वर्ग के लोगों को मिले, यह सरकार का प्रयास है।

लाभार्थियों से किया संवाद

मुख्यमंत्री ने इस दौरान महंगाई राहत कैंप के लाभार्थियों से संवाद किया और फीडबैक लिया। महंगाई राहत कैंप लाभार्थी गीता ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी पेंशन हजार रुपए हो गई। बिजली का बिल शून्य हो गया है। गीता ने कहा कि गहलोत के राज में गरीबों के सुख के दिन कट रहे हैं। गीता ने कहा, ‘गहलोत जी के राज में निहाल हो गया म्हैं’। अशोक गहलोत की जय हो।

First published on: Apr 29, 2023 09:31 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें