Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

Rajasthan Weather Update: मानसून की विदाई ने किसानों को रुलाया, भारी बारिश से खरीफ की फसल तबाह

Rajasthan Monsoon Update: प्रदेश में मानसून की विदाई किसानों के लिए आफत बन गयी है। बीते 48 घंटों से ज्यादा समय से प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में बादल जमकर बरस रहे हैं, इससे प्रदेश के कई जिलों में खरीफ की फसल बर्बाद हो गयी। प्रदेश में आज भी आकाश में बादलों ने डेरा जमा रखा […]

Edited By : Nirmal Pareek | Updated: Oct 9, 2022 14:58
Share :
Rajasthan Weather Update
भारी बारिश से खरीफ की फसल बर्बाद

Rajasthan Monsoon Update: प्रदेश में मानसून की विदाई किसानों के लिए आफत बन गयी है। बीते 48 घंटों से ज्यादा समय से प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में बादल जमकर बरस रहे हैं, इससे प्रदेश के कई जिलों में खरीफ की फसल बर्बाद हो गयी। प्रदेश में आज भी आकाश में बादलों ने डेरा जमा रखा है। धूप नदारद है। वर्षाजनित हादसों में प्रदेश में 3 महिलाओं समेत 4 लोगों की मौत हो गई है।

मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों के लिए आज रविवार को भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग केंद्र जयपुर के अनुसार पूर्वी राजस्थान और हाड़ौती अंचल में जोरदार बारिश होगी। राजधानी जयपुर समेत अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, दौसा, टोंक और सवाई माधोपुर में बारिश का दौर जारी है।

प्रदेश में बीते 48 घंटों से जमकर बादल बरस रहे हैं। करीब सभी जिलों में बारिश का दौर जारी है। बीते 24 घंटों में सबसे ज्यादा भरतपुर के सेवर बंध में 227 एमएम बारिश दर्ज की गई है, तो वहीं नागौर के परबतसर में भी 109 एमएम बारिश की गई दर्ज की गई है। जयपुर मौसम केंद्र के प्रभारी राधेश्याम शर्मा ने कहा कि पिछले 24 घंटों में पूर्वी राजस्थान के लगभग सभी स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश, जबकि करौली, धौलपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, झालावाड़, बारां, सवाई माधोपुर और कोटा जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश और एक-दो स्थानों पर अति भारी बारिश दर्ज की गई है।

वहीं राजस्थान में 24 घंटे से लगातार हो रही बारिश पर सीएम गहलोत एक्टिव मोड पर आ गए है। सीएम गहलोत ने कहा कि प्रदेश में बीते दो दिन में हुई भारी बारिश से कई जिलों में फसलों को नुकसान हुआ है। इन जिलों के जिला कलेक्टरों को निर्देशित किया है कि फसल खराबे की विशेष गिरदावरी कर किसानों को राहत दिलवाना सुनिश्चित करें। आमजन से अपील है कि खराब मौसम में यथासंभव सावधानी बरतें एवं अनावश्यक घर से ना निकलें।

बता दें कि कोटा, बारां और झालावाड़ में मूंग, उड़द और सोयाबीन की फसले खराब हो गई है। कई जिलों में बाजरे की फसल भी खराब हो गयी है। जबकि सरसों की फसल की बुवाई का समय निकलने से किसानों की चिंता बढ़ गई है।

First published on: Oct 09, 2022 02:58 PM
संबंधित खबरें