Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

बच्चे देर से सोते हैं…महाराष्ट्र के राज्यपाल रमेश बैस ने क्यों की स्कूलों का समय बदलने की मांग?

Mumbai News: महाराष्ट्र के राज्यपाल रमेश बैस ने मंगलवार को एक कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा विभाग से स्कूलों का समय बदलने की मांग की। इसके पीछे उन्होंने तर्क भी दिया।

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Dec 6, 2023 07:31
Share :
Maharashtra Governor Ramesh Bais
Maharashtra Governor Ramesh Bais

Mumbai News: बच्चों के देर रात तक मोबाइल में बिजी रहने और अगले दिन जल्दी उठने को लेकर महाराष्ट्र के राज्यपाल रमेश बैस ने स्कूल शिक्षा विभाग से विशेष आग्रह किया है। राज्यपाल ने कहा कि बच्चों की नींद पूरी हो इसकेे लिए स्कूलों का समय बदला जाना चाहिए। राज्यपाल ने यह बात स्कूल शिक्षा विभाग की विभिन्न पहलों के शुरुआत पर आयोजित कार्यक्रम में कहीं। इस दौरान सीएम एकनाथ शिंदे और स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक केसरकर भी मौजूद रहे।

Whtasapp Channel Logo Template

बैस ने कहा कि हर किसी की नींद का पैटर्न प्रभावित हुआ है और छात्र भी इससे अलग नहीं हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग छात्रों को उनकी नींद का कोटा पूरा करने में मदद कर सकता है। राज्यपाल ने कहा कि शिक्षण सामग्री मनोरंजक होनी चाहिए और पाठ्यपुस्तकों तक ही सीमित नहीं रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब स्कूल बैग बच्चों के वजन से अधिक भारी हैए स्कूलों को ऐसा माहौल बनाना चाहिए जहां छात्रों को स्कूल में किताबें ले जाने की जरूरत न पड़े। उन्होंने कहा कि कुछ स्कूलों ने छात्रों को अपनी किताबें स्कूल में ही छोड़ने के लिए प्रोत्साहित किया है।

यह भी पढ़ेंः Fake Income Tax Raid: फर्जी अधिकारी बन की 18 लाख की लूट, पुलिस ने 8 आरोपियों को किया गिरफ्तार

बच्चों के बैग का वजन कम हो

बैस ने कहा कि यह सच है कि छात्र मोबाइल पर काफी समय बिताते हैं। उन्होंने कहा कि किताबों को ऑडियो और वीडियो के रूप में ऑनलाइन किया जाना चाहिए। राज्यपाल ने प्रदेश के श्रीडिंग मूवमेंट की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि पुस्तकालयों को पुनर्जीवित करने के लिए यह एक अनुठी पहल है। इसके लिए और ज्यादा पुस्तकों को हमें पुस्तकालयों तक पहुंचाना होगा। उन्होंने पुस्तकालयों को अपनाने और मातृभाषा में पढ़ाने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

First published on: Dec 06, 2023 07:22 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें